ब्रेकिंग न्यूज़
श्री कृष्ण महोत्सव के रंग में रंगे स्कूली बच्चे, कृष्ण और राधा बन कर पहुंचे स्कूलस्वच्छ रक्सौल संस्था के अध्यक्ष रंजीत के समर्थन में महिलाओं ने हाथों में चूड़ी लेकर किया बाजार भ्रमणपताही पुलिस ने पांच सौ बोतल लेमन फ्लेवर नेपाली कस्तूरी शराब किया बरामद, शराब माफिया फरारकिशोरावस्था में होने वाले बदलाव से जुड़ी भ्रांतियां मात्र एक क्लिक में होंगे दूर, स्वास्थ्य विभाग ने लांच किया साथिया सलाह मोबाइल एपपेरिस में 370 पर बोले प्रधानमंत्री मोदी- अब भारत में कुछ भी टेम्परेरी नहीं होगानेपाल में जन्माष्टमी की धूम, ललितपुर के कृष्ण मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाबघाटी में अब तेज़ी से सामान्य होते जा रहे हैं हालात, खत्म हुआ अलगाववादियों के फतवों का खौफशार्ट सर्किट से स्कूल बस में लगी आग, लपटों के बीच बच्चों को सुरक्षित निकाला गया
झारखंड
अपनी मांगों को लेकर दो दिनों की हड़ताल पर बैंककर्मी, नहीं हो सकेगा जरूरी काम
By Deshwani | Publish Date: 8/1/2019 2:38:55 PM
अपनी मांगों को लेकर दो दिनों की हड़ताल पर बैंककर्मी, नहीं हो सकेगा जरूरी काम

रांची। राजधानी रांची सहित राज्यभर की 3800 बैंक शाखाएं आज से दो दिन का हड़ताल की वजह से बंद रहेगी। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉम्पिटिशन के आह्वान पर यह हड़ताल बुलाया गया है। हड़ताल कर ये बैंक अधिकारी बैंक के सामने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। 

 
यह बैंकों का राष्ट्रव्यापी हड़ताल है और इन बैंक अधिकारियों का मांग है सभी बैंक अधिकारियों को केंद्र सरकार की अनेक कार्यकालों के समान वेतन मिले और चार्टर ऑफ डिमांड के अनुरूप वेतन समझौता बैंक का वर्किंग डे छ: दिन की जगह पांच दिन किया जाए। साथ ही नई पेंशन नीति को बदलकर पुरानी व्यवस्था को लागू की जाए।
 
बैंक अधिकारियों की ये भी मांग है कि क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के अधिकारों को राष्ट्रीयकृत बैंकों की तर्ज पर पेंशन एवं एवं अन्य लाभ दिया जाए। बिहार में भी अगले दो दिनों तक सभी बैंक शाखाएं हड़ताल की वजह से बंद रहेंगी। इससे आम लोगों का बैंक का काम रूकेगा। 
 
कर्मियों की मांग है कि वे पूरानी पेंशन नीति को लागू करे इसके अलावे इनका मांग यह भी है कि सातवें वेतनमान में अशुद्धियों को दूर किया जाए। लंबे अरसे से संविदा पर काम कर रहे कर्मियो को परमानेंट सेवा की जाए। इनकी कुल 10 मांगे है। सांकेतिक हड़ताल के बाबजूद भी यदि मोदी सरकार नहीं मानी तो बैंककर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के मूड में हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS