झारखंड
विविधता में एकता हमारी संस्कृति की पहचान: रघुवर दास
By Deshwani | Publish Date: 20/2/2018 5:47:02 PM
विविधता में एकता हमारी संस्कृति की पहचान: रघुवर दास

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि हमारा देश दुनिया का सबसे युवा देश है। हमारे देश की आबादी की 65 प्रतिशत आबादी 35 वर्ष से कम उम्र के युवाओं की है। युवा शक्ति का इस्तेमाल कर भारत का फिर से विश्व गुरु बनाया जा सकता है। राजधानी में आयोजित 33वें नेशनल यूथ फेस्टिवल के समापन समारोह में रघुवर ने कहा कि हमारा देश विशाल है, विविधताओं से भरा हुआ है। खानपान, वेशभूषा, रीति-रिवाज अलग-अलग होने के बावजूद भी हम एक हैं। 

 
उन्होंने कहा कि देश को बढ़ाने के लिए युवाओं से बड़ी पूंजी नहीं हो सकती है, जो आज हमारे पास है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवा की शक्ति को पहचाना और उन्हें डिग्री के साथ हुनर देने की पहल की। स्कील्ड लोगों की मांग आज पूरी दुनिया में है।
 
उन्‍होंने कहा कि युवा अगर हुनरमंद हो जाए, तो पूरी दुनिया में अपना परचम लहरा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि युवा सपने जरूर देखें। अपने सपने राष्ट्र को जोड़ते हुए देखें। मैंने भी राष्ट्र के निर्माण के लिए सपने देखे हैं। टाटा कंपनी में मजदूरी करते हुए मैंने पहले बाबू बनने का सपना देखा था। मैंने फिर अपने सपने को राष्ट्र निर्माण से जोड़ा। ईश्वर की कृपा से मुझे राज्य का मुख्य सेवक बनाने का दायित्व मिल गया।
 
रघुवर दास ने कहा कि हमें भारत को फिर से विश्वगुरु बनाना है। हमारी संस्कृति की जड़ें काफी मजबूत हैं। 600 वर्ष की गुलामी के बाद भी हमारी संस्कृति को कोई नहीं मिटा सका. इसी संस्कृति के माध्यम से हम दुनिया के पथ प्रदर्शक बन सकते हैं। 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS