ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के मधुबन में भारत माइक्रो फाइनेंस की शाखा से लूट के 80 हजार रुपए व मैनेजर की मोबाइल मिला, एक गिरफ्तार, चार अन्य लूटेरों के नाम का पता चलामोतिहारी के पंचमंदिर शहनाई विवाह भवन में समारोह के दौरान मारपीट की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम पर हमला, नगर इंस्पेक्टर सहित कई घायल, पड़ोसी गिरफ्तार35वें बॉक्‍सम अंतर्राष्‍ट्रीय मुक्‍केबाजी टूर्नामेंट में भारत की मुक्‍केबाज पूजा रानी सेमीफाइनल मेंसरकार ने कोविड टीकाकरण अभियान में तेजी लाने को समय सीमा हटाया, 24 घंटे टीकाकरण की दी अनुमतिप्रधानमंत्री को सेरावीक 2021 में 5 मार्च को मिलेगा सेरावीक वैश्विक ऊर्जा एवं पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कारजम्मू-कश्मीर: पुलवामा में पुलिस ने आतंकवादियों के ठिकाने का किया भंडाफोड़समस्तीपुर: एसबीआई शाखा से दिन दहाड़े छह लाख की लूटभारत और इंग्लैंड के बीच चौथा और आखिरी टेस्ट कल से अहमदाबाद में होगा शुरू
अंतरराष्ट्रीय
कोरोना काल में और बड़ी शराब की खपत, रिसर्च के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान लोगों में शराब पीने की आदत में हुई तेजी से वृद्धि
By Deshwani | Publish Date: 7/12/2020 7:17:03 PM
कोरोना काल में और बड़ी शराब की खपत, रिसर्च के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान लोगों में शराब पीने की आदत में हुई तेजी से वृद्धि

वाशिंगटन: कोरोना काल में इंसान की जीवन शैली में कई बदलाव आए हैं. कुछ अच्छे तो कुछ बुरे. एक रिसर्च में लोगों की ‘बुरी आदत’ (Bad Habits) में वृद्धि का खुलासा हुआ है. रिसर्च के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान लोगों में शराब पीने की आदत और बढ़ गई है.



लोगों में बढ़ी ड्रिंक की आदत
‘पीर-रिव्यू अमेरिकन जर्नल ऑफ ड्रग एंड अल्कोहल एब्यूज’ में प्रकाशित एक रिसर्च के मुताबिक अमेरिका में 18 वर्ष से अधिक के लगभग 2,000 लोगों के बीच सर्वे किया गया. सर्वे में COVID-19 लॉकडाउन के दौरान ड्रिंक की आदत और तनाव को लेकर प्रश्न शामिल किए गए. सर्वे में सामने आया कि शराब की खपत और बढ़ गई है. जो पुरुष दो घंटे के भीतर पांच या अधिक और महिलाएं चार के लगभग पेग लेती हैं उनकी ड्रिंक लेने की आदत लॉकडाउन के हर हफ्ते में 19 प्रतिशत की दर से तेजी से बढ़ी है.

जल्दी-जल्दी शराब पीने वालों का बुरा हाल!
जल्दी शराब पीने वालों की ‘ड्रिंक कैपेसिटी’ कभी कभार शराब (Alcohol) पीने वालों की तुलना में दोगुनी बढ़ गई है. इनमें भी जो लोग बीमार हैं या अवसाद (Depression) से ग्रस्त हैं वो ज्यादा शराब का सेवन कर रहे हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास हेल्थ साइंस सेंटर स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के विशेषज्ञों द्वारा किए गए एक शोध में यह भी बताया गया है कि, ‘महामारी के दौरान रोज शराब पीने वालों ने हर एक मौके पर चार ड्रिंक लीं जबकि कभी कभार शराब पीने वालों ने दो पेग ही लिए.



ओकेजनल ड्रिंकर की आदत में हुआ सुधार
इस रिसर्च में सामने आया है कि कभी कभार पीने वाले लोगों की आदत में लॉकडाउन के दौरान सुधार हुआ है. इससे पहले वो ज्यादा ड्रिंक लेते थे लेकिन महामारी के दौरान बच्चों और परिवार के साथ समय बिताने के चलते उनकी अल्कोहल खपत 26 प्रतिशत तक कम हो गया है.



इसलिए किया गया रिसर्च
शोधकर्ताओं ने अधिक शराब पीने वाले लोगों के हित में रोकथाम की नई रणनीति बनाने की जरूरत बताई है अन्यथा ऐसे लोगों के गंभीर स्वास्थ्य परिणाम हो सकते हैं. इस रिसर्च का उद्देश्य COVID-19 से संबंधित तनाव के कारकों और शराब की खपत में परिवर्तन व महामारी के बाद लगातार शराब पीने वालों के बीच एक कड़ी की पहचान करना है.
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS