ब्रेकिंग न्यूज़
हाजीपुर में पुलिस ने एक शराब माफिया को एनकाउंटर में मार गिराया, हथियार के साथ एक गिरफ्तारबिहार के औरंगाबाद में झंडातोलन करने जा रहे मुखिया पुत्र पर अपराधियों ने किया सरेआम फायरिंगपटना के मगध महिला कॉलेज में एक लफंगे ने राजनीति शास्त्र की छात्रा से सरेआम की छेड़खानीहाजीपुर में बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़, एक की मौत, बाल-बाल बचे डीएसपीसिवान के मैरवा में प्रसिद्ध होम्योपैथिक डॉक्टर की बाइक सवार अपराधियों ने हत्या कर दीजम्मू-कश्मीर के निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह और चार अन्य अभियुक्तों को 15 दिन की हिरासत में भेजा गयामोतिहारी के बंजरिया में दवा दुकानदार की हत्या के मामले में पुत्रवधू सहित 4 गिरफ्तार, एक कृष्णनगर निवासी, कारतूस व आर्म्स जब्तबेतिया में अज्ञात महिला की ट्रेन की चपेट में आने से मौत, शिनाख्त में जुटी पुलिस
राष्ट्रीय
चुनाव आयोग आज दोपहर करेगा महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान
By Deshwani | Publish Date: 21/9/2019 11:36:21 AM
चुनाव आयोग आज दोपहर करेगा महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान

नई दिल्ली। महाराष्ट्र और हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का आज ऐलान हो सकता है। चुनाव आयोग ने आज दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है, जिसमें तारीखों की घोषणा होने की संभावना है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र और हरियाणा में दीवाली से पहले विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। महाराष्ट्र की 288 सदस्यों वाली विधानसभा सभा का कार्यकाल नौ नवंबर को समाप्त हो रहा है जबकि हरियाणा की 90 सदस्यों वाली विधानसभा का कार्यकाल दो नवंबर को समाप्त हो रहा है।
 
महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनावों की अधिसूचना पहले आ जाएगी जबकि झारखंड में चुनाव बाद में होंगे क्योंकि यहां कई चरणों में मतदान होने की संभावना है। हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा के चुनाव के लिए अंतिम दौर की समीक्षा जारी है और इसी के तहत चुनाव आयोग अर्धसैनिक बलों की तैनाती पर राज्य और केंद्रीय गृह मंत्रालयों के अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठकें की है।
 
इस संदर्भ में चुनाव आयोग की टीम हरियाणा और महाराष्ट्र का दौरा कर चुकी है। बता दे कि वर्ष 2014 में दोनों राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान 20 सितंबर को हुआ था और 15 अक्टूबर को मतदान हुई थी। चुनाव के परिणाम 19 अक्टूबर को घोषित हुए थे, तब दिवाली 23 अक्टूबर को थी, वहीं 2014 में झारखंड में 25 नवंबर को 23 दिसंबर के बीच 5 चरणों में मतदान हुआ था।
 
दोनों राज्यों में चुनाव के तारीखों की घोषणा होते ही आचार सहिंता भी लागू हो जायेगी। इसके बाद दोनों राज्यों में तबादलों और नियुक्तियों को टाल दिया जायेगा। किसी भी अधिकारी के तबादले का अधिकार एकमात्र निर्वाचन आयोग को ही होगा। सत्तारुढ़ पार्टी सरकारी खर्च पर अपनी किसी भी उपलब्धि का प्रचार-प्रसार नहीं कर सकेगी। हालांकि सीएम और मंत्री अपनी तय-शुदा जिम्मेदारियों का निर्वहन करते रहेंगे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS