ब्रेकिंग न्यूज़
पीडीपी से गठबंधन तोड़ने के बाद जम्मू में गरजे अमित शाह, कश्मीर को नहीं होने देंगे अलगअधूरी पड़ी योजनाओं को जल्द पूरा करने का सुशील कुमार मोदी ने दिए निर्देशसर्च अॅापरेशन में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, लातेहार से भारी मात्रा में हथियार बरामदकबाड़ी वाले ने किया कबूल, 8500 में खरीदी थी मैट्रिक परीक्षा की गायब हुई कॉपियांसरकारी जमीन पर लालू के कन्हैया ने बनवाया मंदिर, प्रशासन ने नहीं की कोई कार्रवाईस्वतंत्र विदेश नीति के तहत भारत और चीन से करीबी संबंध बनाए रखेगा नेपालसैफुदीन सोज ने फिर दिया विवादित बयान: पटेल तो कश्मीर पाकिस्तान को देना चाहते थे पर नेहरू नहीं मानेउत्पाद विभाग की टीम ने जब्त की 201 कार्टन नेपाली शराब
अंतरराष्ट्रीय
पाक मीडिया संस्था ने फर्जी खबर को लेकर चैनलों को चेताया
By Deshwani | Publish Date: 14/9/2017 11:09:19 AM
पाक मीडिया संस्था ने फर्जी खबर को लेकर चैनलों को चेताया

लाहौर। पाकिस्तान की मीडिया निगरानी संस्था ने टेलीविजन चैनलों को आज चेतावनी दी कि वे सोशल मीडिया की सूचनाओं के आधार पर फर्जी खबर का प्रसारण नहीं करें।
 
पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण पेमरा ने नोटिस में कहा, भारत-चीन सीमा पर भारतीय सैनिक की हत्या के संदर्भ में 17 जुलाई, 2017 को फर्जी खबर प्रसारित की गई जो पेमरा अधिनियम-2002 के कई प्रावधानों का उल्लंघन है। 
 
इसने टेलिवजन चैनलों को सलाह दी है कि वे आचार संहिता का पालन करें और सोशल मीडिया के आधार पर फर्जी खबर का प्रसारण नहीं करें। संस्था ने कहा कि आचार संहिता का पालन नहीं करने पर पेमरा के कानूनों के अनुसार सख्त कार्वाई की जाएगी।
 
पाकिस्तानी चैनलों ने गलत खबर दी थी कि भारत-चीन सीमा पर कम से कम 158 सैनिक मारे गए हैं। कुछ उर्दू अखबारों में भी यह फर्जी प्रकाशित की गई थी। भारतीय विदेश मंत्रालय के तत्कालीन प्रवक्ता गोपाल बागले ने इसे पूरी तरह निराधार, दुर्भावनापूर्ण और शरारती करार दिया था।
 
उन्होंने हादसे में 23 छात्रों और दो वार्डन के मारे जाने की पुष्टि की है। आशंका है कि इन लोगों की मौत धुएं के कारण दम घुटने या आग में फंस जाने के कारण हुई।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS