ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने नागालैंड में मोन मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखीराष्ट्रपति ने गुरु रविदास जयंती की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दींनई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में खेलों को एक गौरवपूर्ण स्थान दिया गया है : प्रधानमंत्रीसीतामढ़ी के मेजरगंज में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर दिनेश राम का मोतिहारी के बरनावाघाट पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कारकोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाले कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती- श्री तोमरपुद्दुचेरी में प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत कीसमस्तीपुर: एक मार्च से कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे फेज की होगी शुरुआतमोतिहारी के कई पुलिस पदाधिकारी इधर से उधर, छतौनी के नये एसएचओ विजय प्रसाद राय व नगर थानाध्यक्ष बने विजय प्रसाद राय,जबकि मधुबन एसएचओ पर हुई कार्यवाई
राष्ट्रीय
भारतीय सेना ने सेना दिवस परेड में अपने ड्रोन्स का शानदार प्रदर्शन किया
By Deshwani | Publish Date: 15/1/2021 8:36:50 PM
भारतीय सेना ने सेना दिवस परेड में अपने ड्रोन्स का शानदार प्रदर्शन किया

दिल्ली। भारतीय सेना ने आज 15 जनवरी 2021 को दिल्ली कैंट में आयोजित सेना दिवस परेड के दौरान अपने 75 स्वदेशी डिजाइन से विकसित ड्रोन्स का उपयोग करते हुए इनकी हवा में उड़ने की क्षमता का लाइव प्रदर्शन किया। आर्टिफिशिल इंटेलिजेंस तकनीक से इन ड्रोन्स को नमूने के तौर पर तैयार किया गया, दुश्मन के कृत्रिम मिशन और ठिकानों तक पहुंचाया गया जिसकी तमाम जानकारियां इनके जरिए एकत्र हुईं।





इस प्रदर्शन के पीछे भारतीय सेना का मकसद भविष्य के लिए अपनी सेना को नई प्रौद्योगिकी से लैस करना है ताकि सुरक्षा संबधी किसी भी बड़ी चुनौती का सामना कुशलता से किया जा सके। भारतीय सेना आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ऑटोनॉमस वेपन सिस्टम, क्वांटम टेक्नोलॉजीज, रोबोटिक्स, क्लाउड कंप्यूटिंग और अल्गोरिदम वॉरफेयर जैसी नवीन और प्रभावी प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल पर भारी निवेश कर रही है ताकि सेना अपने युद्ध संबंधी दर्शन और इन विशेषताओं वाली तकनीकों के इस्तेमाल में आपसी सामंजस्य बिठा सके।




भारतीय सेना ने ड्रीमर्स, स्टार्टअप्स, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई), निजी क्षेत्र, शैक्षणिक समुदाय, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और रक्षा मंत्रालय के सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों के साथ मिलकर प्रौद्योगिकी से जुड़ी पहलों की एक लंबी श्रृंखला शुरू की है। ऐसी ही एक परियोजना है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ऑफेंसिव ड्रोन ऑपरेशंस, जिसे एक भारतीय स्टार्ट-अप के साथ मिलकर चलाया जा रहा है। यह परियोजना भारत को हथियारों के लिए अपने प्लेटफॉर्म तैयार करने में स्वायत्त बनाने की एक कोशिश का हिस्सा है। ये पहल भारतीय सेना के इसी प्रयास की शुरुआत का प्रतीक है जो अपने मानव संसाधन को साथ लेकर दुनिया की नवीनतम डिजिटल प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल के लिए प्रतिबद्ध है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS