ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या आतंकी हमले पर 14 साल बाद फैसला, चार दोषियों को उम्रकैद, एक बरीचमकी बुखार पीड़ितों की चिकित्सा व्यवस्था से सरकार संतुष्ट, देर से अस्पताल पहुंचने के कारण हुई ज्यादा बच्चों की मौतसड़क हादसे में बाइक सवार तीन लोगों की दर्दनाक मौत, बस में पीछे से मारी टक्करएक दिवसीय स्व अर्जुन बैठा मेमोरियल चेस प्रतियोगिता का आयोजन'गुलाबो सिताबो' की शूटिंग के लिए नवाबों के शहर लखनऊ पहुंचे अमिताभव्हील चेयर पर लोकसभा में पहुंचे मुलायम सिंह यादव, निर्धारित क्रम से पहले ली शपथसुप्रीम कोर्ट में सरकारी डॉक्टरों की सुरक्षा संबंधी याचिका पर सुनवाई टालीभारत ने फिजी को 11-0 से रौंदकर अंतिम चार में पहुंची भारतीय महिला हॉकी टीम
बिहार
पिस्तौल की नोक पर साढ़े पांच लाख रूपये, मोटर साईकिल एवं मोबाईल की लूट
By Deshwani | Publish Date: 11/5/2019 11:06:21 PM
पिस्तौल की नोक पर साढ़े पांच लाख रूपये, मोटर साईकिल एवं मोबाईल की लूट

दरभंगा। देवेन्द्र कुमार ठाकुर। घनष्यामपुर थाना क्षेत्र के रसियारी एवं कथाल गांव के बीच शनिवार को एक मोटर साईकिल पर तीन सवार अपराध कर्मियों ने कॉमन सर्विस सेन्टर के संचालक महथवार गांव निवासी गणेष कुमार मिश्रा के पुत्र राजन कुमार मिश्रा को दिन दहाड़े घेर कर पैर में गोली मारते हुए उसकी मोटर साईकिल एवं साढ़े पांच लाख रूपये लूट कर फरार हो गये। फरार होने से पहले घायल राजन के बड़े भाई चन्दन मिश्रा की मोबाईल भी अपराध कर्मियों ने छिन लिया। घायल व्यक्ति की ईलाज घनष्यामपुर पीएचसी में कराया गया। 

 
जहां प्राथमिक ईलाज करने के बाद चिकित्सकों ने उसे बेहतर ईलाज के लिए डीएमसीएच रेफर कर दिया। इस घटना को लेकर पूरे क्षेत्र में दहषत का माहौल बना हुआ हैं।
 
बताया जाता हैं कि राजन अपने बड़े भाई चन्दन के साथ मोटर साईकिल पर सवार होकर महथवार गांव से कथाल गांव जा रहा था। इसी दौरान मोटर साईकिल पर सवार तीन अपराधियों ने उसे घेर लिया और पिस्तौल की नोक पर मोटर साईकिल देने को कहने लगा। जिसमें राजन चकमा देकर भागने का प्रयास करने लगा। इसपर उसका बड़ा भाई छूट गया जिसे अपराधियों ने उसके कनपट्टी पर पिस्तौल तानते हुए राजन को वापस लौटने को कहा। अपने भाई की जान को खतरे में देखकर राजन पुनः वापस लौट गया जिसे अपराधियों ने उसके दाहिने पैर में गोली मारकर बैंग से भरा साढ़े पांच लाख रूपये सहित मोटर साईकिल लूट कर कथाल गावं की ओर फरार हो गया। 
 
इस घटना की जानकारी राजन के चचेरे भाई समीर ने दिया और बताया कि उसके मोबाईल फोन पर जानकारी दी गयी जहां परिजन सहित रिष्तेदार घटना स्थल पर पहुँचकर राजन को घनष्यामपुर पीएचसी पहुँचाया गया। जहां प्राथमिकी ईलाज के बाद उसेे डीएमसीएच भेज दिया गया।
 
इस संदर्भ मे दरभंगा के वरीय पुलिस कप्तान बाबूराम ने बताया अपराधियों की धर पकड़ के लिए टीम गठित की गयी हैं और शीध्र ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS