ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के मधुबन में भारत माइक्रो फाइनेंस की शाखा से लूट के 80 हजार रुपए व मैनेजर की मोबाइल मिला, एक गिरफ्तार, चार अन्य लूटेरों के नाम का पता चलामोतिहारी के पंचमंदिर शहनाई विवाह भवन में समारोह के दौरान मारपीट की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम पर हमला, नगर इंस्पेक्टर सहित कई घायल, पड़ोसी गिरफ्तार35वें बॉक्‍सम अंतर्राष्‍ट्रीय मुक्‍केबाजी टूर्नामेंट में भारत की मुक्‍केबाज पूजा रानी सेमीफाइनल मेंसरकार ने कोविड टीकाकरण अभियान में तेजी लाने को समय सीमा हटाया, 24 घंटे टीकाकरण की दी अनुमतिप्रधानमंत्री को सेरावीक 2021 में 5 मार्च को मिलेगा सेरावीक वैश्विक ऊर्जा एवं पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कारजम्मू-कश्मीर: पुलवामा में पुलिस ने आतंकवादियों के ठिकाने का किया भंडाफोड़समस्तीपुर: एसबीआई शाखा से दिन दहाड़े छह लाख की लूटभारत और इंग्लैंड के बीच चौथा और आखिरी टेस्ट कल से अहमदाबाद में होगा शुरू
बिज़नेस
इन मिडकैप शेयरों में करे निवेश, आपकी हो सकती है अच्छी कमाई
By Deshwani | Publish Date: 25/11/2020 9:55:34 PM
इन मिडकैप शेयरों में करे निवेश, आपकी हो सकती है अच्छी कमाई

मुंबई। मिडकैप इंडेक्स 52 हफ्ते की ऊंचाई पर पहुंच गया है. इस साल मार्च के अपने निचले स्तर से यह 75 फीसदी चढ़ चुका है. बाजार के जानकारों को मिडकैप शेयरों में ब्लूचिप कंपनियों के मुकाबले ज्यादा वैल्यू दिख रही है. इसकी वजह यह है कि कोरोना वायरस की वैक्सीन जल्द आने की उम्मीद से निवेशकों की जोखिम लेने की क्षमता बढ़ी है.

 

 

विश्लेषकों का कहना है कि कई लार्जकैप शेयरों की वैल्यूएशन बहुत बढ़ गई है. इस वजह से निवेशकों कि दिलचस्पी मिडकैप शेयरों में बढ़ी है. ज्यादातर मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों का प्रदर्शन जनवरी 2018 के मुकाबले सेंसेक्स और निफ्टी के मुकाबले कमजोर रहा है. इन कंपनियों की कमाई में स्थिरता की वजह से संस्थागत निवेशकों ने भी इनसे दूरी बनाए रखी है. अब मिडकैप-स्मॉलकैप शेयरों को लेकर निवेशकों का नजरिया बदल रहा है. ईटी ने बड़े ब्रोकरेज फर्मों से उनके पसंदीदा मिडकैप शेयरों के बारे में पूछा है. उनसे यह भी पूछा कि अभी किन मिडकैप शेयरों पर दांव लगाने से अच्छा रिटर्न कमाया जा सकता है. आइए ब्रोकरेज फर्मों की पंसद के बारे में जानते हैं.




1.आईसीआईसीआईडायरेक्ट : इंडोको रेमेडीज
अभी शेयर का भाव : 275.30 रुपये
लक्ष्य भाव : 335 रुपये
यह भी पढ़ें : टीसीएस, इंफोसिस, ल्यूपिन समेत दो दर्जन शेयरों में मिल रहे हैं तेजी के संकेत
इस ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि वित्त वर्ष 2018-19 में घरेलू और निर्यात के मोर्चे पर मुश्किल वक्त का सामना करने के बाद अब इंडोको रेमेडीज के लिए हालात सामान्य हो रहे हैं. कोरोना की वजह से वित्त वर्ष 2021 के दौरान घरेलू बाजार की ग्रोथ कम रहेगी, लेकिन निर्यात के मोर्चे पर ग्रोथ शानदार रहने की उम्मीद है. कंपनी ने कई लॉन्च प्लान किए हैं, जिसका फायदा उसे मिलेगा. ब्रोकरेज फर्म का मानना है कि कंपनी का फ्री कैश फ्लो काफी स्ट्रॉन्ग रहेगा.




2.आईआईएफएल : कावेरी सीड्स
अभी शेयर का भाव : 499.20 रुपये
लक्ष्य भाव : 850 रुपये
कई पैमानों पर अच्छे प्रदर्शन के बावजूद निवेशकों ने कावेरी सीड्स की अनदेखी की है. आईआईएफएल के रिसर्च हेड अभिमन्यु सोफत ने कहा कि कंपनी की ईपीएस ग्रोथ अच्छी रही है. कोर रिटर्न ऑन इक्विटी करीब 45 फीसदी रहा है. 7-8 फीसदी प्लस डिविडेंड प्लस बायबैक यील्ड रही है. सोफत का मानना है कि यह शेयर अंडरवैल्यूड है. कंपनी के बिजनेस में नॉन-कॉटन सेगमेंट की हिस्सेदारी बढ़ेगी. इस सेगमेंट में रेगुलेशन कम है. इसमें मार्जिन ज्यादा है और ग्रोथ की संभावनाएं भी अधिक हैं. इन वजहों से कावेरी सीड्स के शेयरों में अच्छी तेजी आने की उम्मीद है.



3.कोटक सिक्योरिटीज : कल्पतरु पावर
अभी शेयर का भाव : 291.60 रुपये
लक्ष्य भाव : 475 रुपये
इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में कल्पतरु के वित्तीय नतीजे उम्मीद से बेहतर रहे हैं. लागत में कमी लाने के उपायों के अच्छे नतीजे आए हैं. अन्य इनकम में भी इजाफा हुआ है. कंपनी के प्रबंधन ने ग्रुप के रियल एस्टेट बिजनेस के बारे में स्पष्टीकरण पेश किया है. इससे निवेशकों के लिए तस्वीर साफ हुई है. पिछले तीन महीने में रियल एस्टेट बिजनेस की बिक्री बढ़ी है. इससे कंपनी को कर्ज का बोझ घटाने में मदद मिलेगी.



4.मोतीलाल ओसवाल : एल्केम लैब
अभी शेयर का भाव : 2,774.55 रुपये
लक्ष्य भाव : 3,570 रुपये
एल्केम के दूसरी तिमाही के नतीजे उम्मीद से बेहतर रहे हैं. डोमेस्टिक फॉर्म्यूलेशंस सेगमेंट में कंपनी का का बेहतर प्रदर्शन जारी रहने की उम्मीद है. एक्यूट सेगमेंट में रिकवरी और क्रोनिक और ट्रेड जेनेरिक्स सेगमेंट में तेजी का फायदा कंपनी को मिलेगा.


5.आईडीबीआई कैपिटल : बेयर क्रॉपसाइंस
अभी शेयर का भाव : 5,347.10 रुपये
लक्ष्य भाव : 6,850 रुपये
चीन के खिलाफ बने माहौल से मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में भारत के उभरने की संभावना बढ़ी है. लंबी अवधि में इसका सीधा फायदा बेयर क्रॉपसाइंस को मिलेगा. डोमेस्टिक एग्रोकेमिकल स्पेस में बेयर की बहुत मजबूत स्थिति है. कंपनी के पास इनोवेटिव प्रोडक्ट्स देने की क्षमता है. कंपनी ने कस्टमर आधारित सॉल्यूशंस के साथ अपनी स्थिति मजबूत की है. इससे क्रॉप प्रोटेक्शन मार्केट में अपनी पैठ बढ़ाने में इसे काफी मदद मिली है.
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS