ब्रेकिंग न्यूज़
श्री कृष्ण महोत्सव के रंग में रंगे स्कूली बच्चे, कृष्ण और राधा बन कर पहुंचे स्कूलस्वच्छ रक्सौल संस्था के अध्यक्ष रंजीत के समर्थन में महिलाओं ने हाथों में चूड़ी लेकर किया बाजार भ्रमणपताही पुलिस ने पांच सौ बोतल लेमन फ्लेवर नेपाली कस्तूरी शराब किया बरामद, शराब माफिया फरारकिशोरावस्था में होने वाले बदलाव से जुड़ी भ्रांतियां मात्र एक क्लिक में होंगे दूर, स्वास्थ्य विभाग ने लांच किया साथिया सलाह मोबाइल एपपेरिस में 370 पर बोले प्रधानमंत्री मोदी- अब भारत में कुछ भी टेम्परेरी नहीं होगानेपाल में जन्माष्टमी की धूम, ललितपुर के कृष्ण मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाबघाटी में अब तेज़ी से सामान्य होते जा रहे हैं हालात, खत्म हुआ अलगाववादियों के फतवों का खौफशार्ट सर्किट से स्कूल बस में लगी आग, लपटों के बीच बच्चों को सुरक्षित निकाला गया
बिज़नेस
बजट के बाद शेयर बाजार रही खुशनुमा, 370.21 प्वाइंट्स का देखा गया इजाफा
By Deshwani | Publish Date: 1/2/2019 2:13:58 PM
बजट के बाद शेयर बाजार रही खुशनुमा, 370.21 प्वाइंट्स का देखा गया इजाफा

नई दिल्ली। शेयर बाजारों के लिए आज की सुबह खुशनुमा रही। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने वर्ष 2019-20 का अंतरिम बजट भाषण पढ़ना शुरू किया और शेयर बाजारों में आरंभिक कारोबार में बढ़त देखी गई, हालांकि, चालू वित्त वर्ष के लिए राजकोषीय घाटा लक्ष्य के पार निकल गया है, लेकिन इसके बावजूद शुरुआती कारोबार में बाजार लाभ में रहे।

 
बीएसई का 30 शेयरों का सेंसेक्स 157.10 अंक यानी 0.43 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,413.79 अंक पर चल रहा था।
 
वहीं एनएसई निफ्टी 43.25 अंक यानी 0.40 प्रतिशत की तेजी के साथ 10,874.20 अंक पर चल रहा था। बजट भाषण में गोयल ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा जीडीपी  के 3.4 प्रतिशत रहेगा। जबकि इसके लिए पूर्वानुमान 3.3 प्रतिशत तय किया गया था। बजट के बाद सेंसेक्स 370.21 प्वाइंट्स की बढ़त के साथ 36,626.90 पर पहुंच गया।
 
बता दें, वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश करते हुए हर एक वर्ग का ध्यान रखते हुए सरकार की घोषणाओं का ऐलान किया है। जहां छोटे किसानों को 6 हजार रुपए प्रतिवर्ष मदद करने का ऐलान किया गया है, वहीं नौकरीपेशा वर्ग को भी राहत दी गी है। 
 
वित्त मंत्री ने आयकर छूट की सीमा ढाई लाख रुपए से बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी गई है। वहीं निवेश के साथ यह सीमा 6.50 लाख रुपए तक करने का ऐलान किया गया है। इसके अलावा अब 40 हजार तक के  बैंक ब्याज पर टीडीएस नहीं कटेगा, पहले यह सीमा 10 हजार रुपए थे। इसके अलावा स्टैंडर्ड डिडेक्शन 40 हजार से 50 हजार रुपए कर दिया गया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS