ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कर्नाटक के बेंगलुरु में तीन अलग-अलग प्रकल्पों का लोकार्पण कियाभारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में दिग्गज अभिनेता और निर्देशक बिस्वजीत चटर्जी को 51वें भारतीय व्यक्तित्व पुरस्कार से किया गया सम्मानितभारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रक्सौल के दो केन्द्रों पर कोविड वैक्सीनेशन अभियान हुआ प्रारंभरक्सौल: सिमुलतला विद्यालय में ईशान ने मारी बाजीउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनावों के लिए भाजपा ने चार उम्मीदवारों के नामों की सूची जारी कीIGIMS से शुरू होगा बिहार में कोरोना टीकाकरण अभियान, सबसे पहला टीका IGIMS के सफाईकर्मी रामबाबू को लगेगाझारखंड: चतरा में 15 लाख के इनामी उग्रवादी मुकेश गंझू ने किया आत्मसमर्पणपूर्वी चम्पारण के डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने डंकन अस्पताल में लगाए गए सिटी स्केन सेन्टर का किया उद्घाटन
बिहार
भारतीय नागरिकों के नेपाल प्रवेश पर रोक लगाने के विरोध में भारत-नेपाल सीमा के मैत्री पुल पर जमकर हुआ बवाल
By Deshwani | Publish Date: 26/11/2020 10:28:57 PM
भारतीय नागरिकों के नेपाल प्रवेश पर रोक लगाने के विरोध में भारत-नेपाल सीमा के मैत्री पुल पर जमकर हुआ बवाल

रक्सौल। अनिल कुमार। नेपाल सरकार द्वारा भारतीय नागरिकों के नेपाल प्रवेश पर रोक लगाने के विरोध में गुरुवार को भारत-नेपाल सीमा के मैत्री पुल पर जमकर बवाल हुआ। गुरुवार को सुबह रक्सौल से वीरगंज के तरफ पैदल जाने के दौरान सीमा पर तैनात नेपाल सशस्त्र सुरक्षाकर्मियों ने रोक लगा दिया। जिसका विरोध भारतीय नागरिकों द्वारा करने पर सशस्त्र सुरक्षा बल ने उनके साथ मारपीट किया। भारतीय नागरिकों ने यह आरोप लगाया  कि नेपाली पुलिस ने उन्हें बेरहमी से मारपीट किया है और गाली गलौज किया है। इस दौरान नेपाल पुलिस द्वारा भारतीय ई-रिक्शा में भी  तोड़-फोड़ किया गया। 





बता दें कि भारत सरकार द्वारा विगत माह 16 अक्टूबर को ही अपने तरफ का सीमा खोल दिया। मगर नेपाल सरकार द्वारा सीमा को लगातार बंद रखा गया है। 15 अक्टुबर से 15 नवंबर तक सीमा बंद की घोषणा की गयी थी। लेकिन भारत सरकार द्वारा सीमा खोलने पर भारतीय नागरिकों को 15 नवंबर को सीमा खुलने की उम्मीद जगी थी।लेकिन नेपाल सरकार भारत द्वारा सीमा खोलने के बाद भी पुनः 15 दिसंबर तक सीमा बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इतना ही नही बल्कि नेपाल सरकार ने एक तरफ जहा सीमा बंद रखने का निर्णय लिया है वही दुसरी तरफ नेपाल से भारत के तरफ नेपाली नंबर के वाहनो के साथ प्रवेश करने की इजाजत दे दिया और भारतीय नागरिकों के पैदल नेपाल प्रवेश पर भी रोक लगा दिया है।जिसको लेकर भारतीय नागरिकों मे नेपाल सरकार के प्रति रोष व्याप्त है। 





हालांकि  छठ व इसके पूर्व तक भारतीय नागरिक पैदल आसानी से सीमा पार कर आवागमन करते आरहे थे। परन्तु अचानक गुरुवार को जब भारतीय नागरिक नेपाल जाने के लिए सीमा पर पहुँचे तो उन्हें रोक लिया गया। तब भारतीय लोगों ने कहा कि पहले आप नेपाली नागरिकों को भी भारत जाने पर  रोक लगाईए  जिसके बाद नेपाली पुलिस ने भारतीय नागरिको पर डंडे बरसाना शुरू कर दिया। जिससे स्थिती और विस्फोटक हो गयी लोग आक्रोशित हो गए और नेपाल सरकार व  पुलिस प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाये। इसके बाद भारतीय लोगों ने नेपाली टैंकरों के आवागमन पर रोक लगाकर नेपाली वाहनों के प्रवेश पर रोक की मांग कर प्रर्दशन किया। नेपाल पुलिस प्रसाशन का आतंक इस कदर बढ़ गया है कि अभी कुछ दिन पूर्व मे ही दो भारतीय नंबर के वाहनों को वीरगंज में जब्त कर लिया गया था। परन्तु अब नेपाल सरकार के इस व्यवहार से  भारत-नेपाल का बेटी-रोटी सबंध मे दरार पड़ता दिख रहा है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS