ब्रेकिंग न्यूज़
समस्तीपुर : सरायरंजन में चुनाव प्रचार के दौरान ताबड़तोड़ फायरिंग, बाल बाल बचे प्रत्याशी व समर्थकमेगा स्किल डेवलपमेंट सिस्टम अंतर्गत युवाओं को मिलेगा रोजगार: मुख्यमंत्री नीतीश कुमारपश्चिम चंपारण: राहुल गाँधी ने चम्पारण व बिहार की जनता से नोटबन्दी व लॉक डाउन का मंजर याद दिलायारक्सौल: भाजपा सांगठनिक जिला अध्यक्ष वरुण कुमार सिंह ने जिला कार्यसमिति के चार सदस्यों को 6 वर्षों के लिए किया निष्कासितनेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य मुकेश चौरसिया की मौत के बाद नेपाल पुलिस से शिकायत दर्ज करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन जारीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर दिल्ली भाजपा ने रेड लाइट पर बैनर और प्लेकार्ड के माध्यम से कोरोना से बचाव के लिए किया जागरूकIPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स को जीत के लिए 220 रन का दिया लक्ष्‍यबांग्‍लादेश में नदियों, तलाबों और जलाशयों में दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ दुर्गापूजा का त्‍यौहार संपन्‍न
बिहार
जमुई से तीन युवकों को बिजनेस के लिए सस्ते कपड़े दिलवाने के नाम पर मोतिहारी बुलवाया व लूट लिए लाख रुपए, पिटाई कर पुलिस को भी सौंपा
By Deshwani | Publish Date: 19/9/2020 11:00:00 PM
जमुई से तीन युवकों को बिजनेस के लिए सस्ते कपड़े दिलवाने के नाम पर मोतिहारी बुलवाया व लूट लिए लाख रुपए, पिटाई कर पुलिस को भी सौंपा

मोतिहारी। दिल्ली से तीन युवकों को बिजनेस के लिए सस्ते कपड़े खरीदारी के नाम पर बुलवाया। होटल में ठहराया। एडवांस के नाम पर 80 हजार लिए। फिर शनिवार को राजाबाजार के पास तीनों से 22 हजार रुपए छीन लिए। इतना ही नहीं तीनों को चोर बता कर पिटाई की गई। इन्हें चोर बताकर नगर थाना पुलिस को भी सौंप दिया।

लेकिन प्रशिक्षु आईपीएस राज ने मामले की तहकीकात की। तो अलग ही बात सामने आ गई। बताया जा रहा है कि राजाबाजर के एक व्यक्ति ने तीनों युवकों से छीने गए रुपयों में से 11 हजार रुपए लौटा दिए है। 

दिल्ली से आए युवकों के नाम-

1. राजकुमार 2. दीपक कुमार 3. छोटे कुमार

तीनों युवकों ने प्रशिक्षु आईपीएस को बताया है कि वे तीनों कल छतौनी बस स्टैण्ड में उतरे थे। जहां से उन्हें मीना बाजार स्थित ग्रीन पार्क होटल में ठहरा दिया गया। कल ही तीनों से 80 हजार रुपए कपड़ों की खरीदारी के लिए एडवांस के रूप में ले लिया गया। फिर आज राजा बाजार में बुलाकर मंदिर के पास उनके पास से 22 हजार रुपए छीन लिए गए। बाद में उनकी पिटाई कर चोर बताकर थाने को सौंप दिया गया। तीनों ने पुलिस को बताया है कि मोतिहारी निवासी दीपक नामक व्यक्ति जमुई जाता था। वहां सैलूनवाले से जान पहचान हो गई। जहां पर दीपक ने बताय कि वह मोतिहारी में कपड़ों की बड़ी मंडी है। यहां काफी कम कीमत में कपड़े हॉलसेल रेट में मिलते है। जहां पर सैलून वाले ने कहां कि उनके जानने वाले युवकों को कपड़ो का काम करने है। उन्हें आप सस्ते में कपड़े दिलवा दें। इसके बाद तीनों मोतिहारी आए थे।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS