बिहार
रक्सौल: हरदिया कोठी गाँव में अभी भी नदियों के कटाव से ग्रामीणों में दहशत का माहौल
By Deshwani | Publish Date: 12/8/2020 11:42:44 PM
रक्सौल: हरदिया कोठी गाँव में अभी भी नदियों के कटाव से ग्रामीणों में दहशत का माहौल

रक्सौल। अनिल कुमार। हरदिया कोठी गाँव में अभी भी नदियों के कटाव से ग्रामीणों मे दहशत व्याप्त है। विगत दिनो बंगरी-सरिसवा-मंगरहिया नामक तीन नदियों के उफान से आए  बाढ़ की वजह से भयावह कटाव को रोकने हेतु जलसंसाधन विभाग के लापरवाह संवेदक द्वारा घोर लापरवाही बरता गया है।  बिना सुरक्षा व्यवस्था के,स्थानीय ग्रामीण मजदूरों से कटाव-रोधी कार्य कराने के दौरान अपने घर का एकलौता पुत्र मजदूर लक्ष्मी प्रसाद चौरसिया की आकस्मिक मृत्यु हो गयी। नदी में कटावरोधी कार्य करने के दरम्यान नदी के तेज बहाव में  डुबने से हो गई। तब से ही स्थानीय ग्रामीणों में भय एवं दहशत का माहौल बना हुआ है। स्थानीय प्रशासन की तत्परता से एनडीआरएफ की टीम ने घटना के दूसरे दिन  काफी कोशिश के बाद डुबे मजदूर लक्ष्मी प्रसाद चौरसिया के शव को बरामद तो कर किया। 





परन्तु अभी तक पीड़ित परिजन को राहत के नाम पर किसी सरकारी विभाग और नहीं लापरवाह संवेदक ने कोई सहायता देने की चेष्टा की। नतिजतन  तब से ही कटाव जारी है।उधर कटावरोधी कार्य करने वाले संवेदक इतना संवेदनशील कार्य को छोड़ कर लापता हैं। मदद के नाम पर कुछ स्वंयसेवी संस्थाओं ने पीड़ित परिजनों से मुलाकात कर सहायता देने का कोरा आश्वासन मात्र दिया है।मंगलवार से पुनः हो रहे लगातार वारिश के कारण फिर से उपरोक्त नदियों में जलस्तर खतरे के निशान सज से उपर  बहते हुए लगातार कटाव जारी रखें हुआ है। जिससे हरदिया के ग्रामवासी दहशतज़दा रहते हुए रातभर बिना खाए-पिए जग कर खौफ में रहने को मजबुर है। हरदिया ग्रामवासियों ने अविलंब इस कटाव को रोकने के लिए स्थानीय प्रशासन,मीडिया बंधुओं से आग्रह किया है कि संबंधित विभाग तथा जनप्रतिनिधियों का अपने स्तर से ध्यान आकृष्ट करायें। ताकि हम सभी का अस्त व्यस्त जनजीवन प्रभावित होने बचाया जा सके।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS