ब्रेकिंग न्यूज़
चिराग ने किया भावुक ट्वीट: पहली है पापा चुनाव में उपस्थित नहीं होंगे, विपरीत परिस्थितियों में लड़कर जीतना उन्हीं से सीखामैच के दौरान किए कमेंट पर गावस्कर पर भड़की अनुष्का शर्मा, दिया ये करारा जवाबकृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में पप्पू यादव समर्थकों ने नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी की, गुस्साए भाजपाइयों ने लाठी भांजाबिहार विधानसभा चुनाव-2020: 38 जिलों में कहां किस तारीख को होगी वोटिंग, जानिए विस्तार सेमशहूर गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, 74 साल की उम्र में ली आखिरी सांसबिहार विधानसभा चुनाव: एक घंटा बढ़ा वोटिंग का समय, तीन चरणों में होगा मतदानराजद कार्यकर्ता कृषि बिल के विरोध में पटना की सड़क पर उतरे, तेजस्वी चला रहे ट्रैक्टरदिग्गज गायक बालासुब्रमण्यम की हालत गंभीर, अस्पताल मिलने पहुंचे एक्टर कमल हासन, सलमान ठीक होने के लिए मांगी दुआ
बिहार
बेतिया के गली-नाली पक्कीकरण योजनान्तर्गत पेवर ब्लाॅक का करें इस्तेमाल: जिलाधिकारी
By Deshwani | Publish Date: 3/8/2020 10:10:08 PM
बेतिया के गली-नाली पक्कीकरण योजनान्तर्गत पेवर ब्लाॅक का करें इस्तेमाल: जिलाधिकारी

नल-जल एवं गली-नाली पक्कीकरण योजना की हुई समीक्षा

गड़बड़ी करने वाले को चिन्हित करते हुए कानूनी कार्रवाई करने का निदेश

कैम्प मोड में 5-12 अगस्त तक नल-जल योजना अंतर्गत अभिलेखों का करें पूर्णरूपेण तैयार

बेतिया। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि विभाग से प्राप्त निदेश के आलोक में गली-नाली पक्कीकरण योजनान्तर्गत (08 फीट से कम एवं अधिक में) पेवर ब्लाॅक का इस्तेमाल किया जाना है। जिले में क्रियान्वित होने वाले गली-नाली पक्कीकरण योजनाओं में पेवर ब्लाॅक का इस्तेमाल कराना सुनिश्चित किया जाय। जिलाधिकारी, समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित गली-नाली पक्कीकरण योजना एवं नल-जल योजना की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के क्रम में इस जिले में वापस लौटे कामगारों/श्रमिकों द्वारा पेवर ब्लाॅक का उत्पादन भी किया जा रहा है। गली-नाली पक्कीकरण योजना में पेवर ब्लाॅक के इस्तेमाल से पेवर ब्लाॅक का उत्पादन करने वाले कामगारों/श्रमिकों को प्रोत्साहन भी मिलेगा।

 

जिलाधिकारी ने कहा कि पेवर ब्लाॅक का इस्तेमाल करने से वर्षा जल संचयन में काफी लाभ मिलता है। इससे भू-गर्भ में जल का संग्रहण होता है जिससे पर्यावरण को संतुलित रखने में काफी मदद मिलती है। इसके साथ ही पेवर ब्लाॅक अत्यधिक टिकाउ भी होता है। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि हर हाल में गली-नाली पक्कीकरण योजना के तहत क्रियान्वित योजनाओं में पेवर ब्लाॅक का इस्तेमाल किया जाय। नल-जल योजना की समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 एवं बाढ़ आपदा के कारण कई जगहों पर कुछ योजनाएं लंबित रह गयी हैं जिसे शीघ्रातीशीघ्र पूर्ण किया जाय। साथ ही 5-12 अगस्त तक कैम्प मोड में नल-जल से संबंधित अभिलेखों का संधारण पूर्णरूप से कराना सुनिश्चित करें। उप विकास आयुक्त को निदेश दिया गया कि वे नल-जल से संबंधित कार्यों के अभिलेखीकरण कार्य का नियमित रूप से अनुश्रवण करेंगे तथा शत-प्रतिशत अभिलेखों का संधारण कराना सुनिश्चित करेंगे।

 

जिलाधिकारी ने कहा कि नल-जल एवं गली-नाली पक्कीकरण योजनाएं राज्य सरकार की अतिमहत्वाकांक्षी योजनाएं है। लंबित योजनाओं को शीघ्र ही पूरा किया जाय। उक्त योजनाओं के क्रियान्वयन में प्राप्त शिकायतों के आलोक में लगातार जिलास्तरीय जांच दल द्वारा जांच करायी जा रही है तथा गड़बड़ी करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई भी की जा रही है। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निदेश दिया कि उक्त योजनाओं के क्रियान्वयन में गड़बड़ी करने वालों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाय। उन्होंने सभी संबंधित व्यक्तियों को सख्त हिदायत दी है कि इसमे लापरवाही, अनियमितता एवं कोताही बरतने वाले को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा। साथ ही जिलास्तरीय पदाधिकारियों को निदेश दिया गया कि जांच दल द्वारा पूरी सूक्ष्मता के साथ जांच की जाय। इस अवसर पर अपर समाहर्ता नंदकिशोर साह, उप विकास आयुक्त रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, निदेशक, डीआरडीए राजेश कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS