ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोज
बिहार
जविपा अध्‍यक्ष अनिल कुमार ने बिजली विभाग के छोटे कर्मचारियों के बीच बांटा राशन
By Deshwani | Publish Date: 9/4/2020 8:37:28 PM
जविपा अध्‍यक्ष अनिल कुमार ने बिजली विभाग के छोटे कर्मचारियों के बीच बांटा राशन

पटना राजधनी पटना में दिन - रात बिजली व्यवस्था को दुरुस्त रखने वाले बिजली विभाग के छोटे कर्मचारियों के बीच आज जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने राशन का वितरण किया। उन्‍होंने तकरीबन 70 कर्मचारियों के साथ कुछ अत्‍यंत गरीब लोगों को भी राशन बांटा। उन्‍होंने कल भी सैकड़ों लोगों के बीच चावल, दाल और साबुन का वितरण किया था और आज उन्‍होंने बिजली विभाग के छोटे कर्मचारियों के बीच राहत सामग्री का वितरण किया, ताकि वे भूखे न रहें।

 
 
वहीं, अनिल कुमार ने कहा कि लॉकडाउन आज की जरूरत है, क्‍योंकि हमारे देश में हेल्‍थ सेक्‍टर की स्थिति पहले से अच्‍छी नहीं है। ऐसे में लॉकडाउन ही कोरोना के संक्रमण को तोड़ने का एक विकल्‍प था, मगर इसके बाद गरीब और वंचित लोगों के सामने खाने-पीने की गंभीर समस्‍या उत्‍पन्‍न हो गई। ऐसे में हमें सूचना मिली थी कि बिजली विभाग में कार्यरत छोटे कर्मचारियों के पास भी राशन – पानी का अभाव है। तब हमने इन कर्मचारियों के बीच को चावल, दाल और साबुन देने का निर्णय लिया।
 
 
अनिल कुमार ने कहा कि बिहार की सरकार कह कर भी लोगों को अनाज नहीं दे पा रही है। इसमें हमने एक प्रयास किया है। हमारी ओर से गरीबों, वंचितों और जरूरमंद लोगों के बीच मदद जारी रहेगी। हम इसके जरिये अपने सामाजिक दायित्‍वों का निर्वहन कर रहे हैं। उन्‍होंने राज्‍य सरकार के उस दावे को भी खारिज किया, जिसमें राज्‍य सरकार द्वारा सभी लोगों तक मदद पहुंचाने और पैसे देने की बात की जा रही है। उन्‍होंने कहा कि अगर लोगों को मदद मिल रही होती, तो परेशान नहीं होते।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS