ब्रेकिंग न्यूज़
भाजपा उम्मीदवार अर्जुन सिंह को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 28 मई तक गिरफ्तारी पर लगी रोकसुनीता लाकरा ने पूरे किये 150 अंतरराष्ट्रीय मैच, हॉकी इंडिया ने दी बधाईसलमान की 'भारत' का चौथा गाना 'तुरपेया' हुआ रिलीज, नोरा फतेही का ठुमका हुआ वायरललोकसभा चुनाव: मतगणना कल सुबह आठ बजे से, वीवीपैट की गिनती के कारण परिणाम आने में होगी देरी'साहो' का फर्स्ट लुक पोस्टर जारी, इस 15 अगस्त पर छाएंगे प्रभासअमेरिका युद्ध के बजाय, ईरान के खतरे को रोकना चाहता है: पेंटागन प्रमुखनतीजों से पहले राहुल की कार्यकर्ताओं को नसीहत, मेहनत नहीं जाएगी बेकार, फर्जी एग्जिट पोल से न हों निराशदिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर कस्टम विभाग ने 10 किलो सोना पकड़ा
राष्ट्रीय
केजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोक
By Deshwani | Publish Date: 24/4/2019 2:38:26 PM
केजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोक

नई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव के खिलाफ मंगलवार जारी किए गए गैर जमानती वारंट पर फिलहाल राउज एवेन्यू कोर्ट ने रोक लगा दी है। वकील सुरेन्द्र शर्मा द्वारा तीनों पर किए गए मानहानि मामले में पेश न होने की वजह से कोर्ट ने ये वारंट जारी किया था।

 
सुनवाई के दौरान केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के वकील ने कहा था कि कोर्ट ने दोनों को व्यक्तिगत पेशी से स्थाई छूट दे रखी है। इसलिए गैरजमानती वारंट को निरस्त किया जाए। तब कोर्ट ने कहा कि इसके लिए उपयुक्त याचिका दायर कीजिए, हम 24 अप्रैल को सुनवाई करेंगे।
 
सुरेंद्र कुमार शर्मा ने आरोप लगाया है कि 2013 में आम आदमी पार्टी ने उनसे संपर्क किया था और चुनावों में हिस्सा लेने को कहा। शर्मा का कहना था कि केजरीवाल उनके सामाजिक कार्यों से खुश थे। शर्मा ने दावा किया है कि 14 अक्टूबर 2013 को प्रमुख अखबारों में छपी खबरों में केजरीवाल ने उनके खिलाफ अपमानजनक और खराब शब्दों का इस्तेमाल किया था। इससे बार एसोसिएशन और समाज में उनके सम्मान को नुकसान पहुंचा था।
 
सुरेंद्र शर्मा को पहले शाहदरा विधानसभा से आम आदमी का टिकट दिया गया था लेकिन बाद में उनका टिकट काट दिया गया। इन तीनों से जब टिकट काटने की वजहों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सुरेंद्र शर्मा पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं जिसके चलते टिकट नहीं दी जा सकती। तीनों के इन्हीं बयानों के खिलाफ सुरेंद्र शर्मा ने आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज कराया है। सुरेंद्र शर्मा कड़कड़डूमा कोर्ट में वकालत करते हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS