ब्रेकिंग न्यूज़
साजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरलसमस्तीपुर में कोरोना पॉजिटिव का शव जलाने पहुंची पुलिस व मेडिकल टीम पर रोड़ेबाजीमोतिहारी केपीपराकोठी में ट्रक ने मारी बाइक में टक्कर, बाइक सवार दो युवकों की मौत, मृतक दोनों रिश्ते में साला-बहनोईमुंगेर में अपराधियों ने तीन मकानों को बम से उड़ा महिला व दुधमुहे बेटे की हत्या की, जनआक्रोश, मुंगेर-भागलपुर पथ जाम किया
राष्ट्रीय
केजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोक
By Deshwani | Publish Date: 24/4/2019 2:38:26 PM
केजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोक

नई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव के खिलाफ मंगलवार जारी किए गए गैर जमानती वारंट पर फिलहाल राउज एवेन्यू कोर्ट ने रोक लगा दी है। वकील सुरेन्द्र शर्मा द्वारा तीनों पर किए गए मानहानि मामले में पेश न होने की वजह से कोर्ट ने ये वारंट जारी किया था।

 
सुनवाई के दौरान केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के वकील ने कहा था कि कोर्ट ने दोनों को व्यक्तिगत पेशी से स्थाई छूट दे रखी है। इसलिए गैरजमानती वारंट को निरस्त किया जाए। तब कोर्ट ने कहा कि इसके लिए उपयुक्त याचिका दायर कीजिए, हम 24 अप्रैल को सुनवाई करेंगे।
 
सुरेंद्र कुमार शर्मा ने आरोप लगाया है कि 2013 में आम आदमी पार्टी ने उनसे संपर्क किया था और चुनावों में हिस्सा लेने को कहा। शर्मा का कहना था कि केजरीवाल उनके सामाजिक कार्यों से खुश थे। शर्मा ने दावा किया है कि 14 अक्टूबर 2013 को प्रमुख अखबारों में छपी खबरों में केजरीवाल ने उनके खिलाफ अपमानजनक और खराब शब्दों का इस्तेमाल किया था। इससे बार एसोसिएशन और समाज में उनके सम्मान को नुकसान पहुंचा था।
 
सुरेंद्र शर्मा को पहले शाहदरा विधानसभा से आम आदमी का टिकट दिया गया था लेकिन बाद में उनका टिकट काट दिया गया। इन तीनों से जब टिकट काटने की वजहों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सुरेंद्र शर्मा पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं जिसके चलते टिकट नहीं दी जा सकती। तीनों के इन्हीं बयानों के खिलाफ सुरेंद्र शर्मा ने आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज कराया है। सुरेंद्र शर्मा कड़कड़डूमा कोर्ट में वकालत करते हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS