ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी में बलआ के राज मार्केट स्थित दवा दुकानदार की अपराधियों ने रात्रि में गोली मार हत्या कीरक्सौल के ई. कुंदन श्रीवास्तव ने आर्थिक मदद कर सत्याग्रह ट्रेन से आये यात्रियों को दिया भोजन का पैकेटझारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जान
बिहार
विद्यार्थियों ने ग्रामवासियों को पत्र लिखकर दिलाया मतदान करने का संकल्प
By Deshwani | Publish Date: 19/4/2019 8:25:54 PM
विद्यार्थियों ने ग्रामवासियों को पत्र लिखकर दिलाया मतदान करने का संकल्प

 छपरा। सारण के विशिष्ट समाजसेवी संगठन माँ यूथ ऑर्गेनाईजेशन के द्वारा मतदाता जागरूकता हेतु एक विशेष प्रकार की पत्र लेखन प्रतियोगिता कराई गई है। 

 
परसों 17 अप्रैल को हुये इस प्रतियोगिता के विजेताओं को 19 अप्रैल को पुरस्कृत किया गया। इसमें 112 व्यक्तियों से अपने पत्र पर मतदान का संकल्प दिलाने वाली अंजली कुमारी को प्रथम पुरस्कार से, 100 व्यक्तियों से संकल्प दिलाने वाली सोनी कुमारी को द्वितीय पुरस्कार से एवं 99 व्यक्तियों को संकल्प दिलाने वाली लाखा कुमारी को तृतीय पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। अन्य में अर्जुन, निर्जला, नाज़, काजल, बंटी, फैज़ल एवं प्रियंका को भी पुरस्कृत किया गया। इस प्रतियोगिता के द्वारा 10 से अधिक गांवों में लगभग 250 विद्यार्थियों ने अपने पत्र पर लगभग 5200 व्यक्तियों से मतदान करने हेतु संकल्प पर हस्ताक्षर कराया।
 
संगठन के अध्यक्ष शशि सिंह ने बताया कि ऐसे कार्यक्रम सरकार के स्तर से अगर हर विद्यालय में कराये जाये तो मतदान प्रतिशत में व्रिद्धि होगी। इस पत्र लेखन प्रतियोगिता में सभी बच्चों ने अपने अभिभावकों को पत्र लिखा कि वे मतदान ज़रूर करें। इसके उपरान्त इन बच्चों को यह पत्र अपने आस-पास के अधिक -से-अधिक लोगों को जाँच हेतु भेजा गया। बच्चों ने इस कार्यक्रम में उम्मीद से अधिक उत्साह दिखाया और कुछ ने तो 100 से अधिक मतदाताओं से इस संकल्प रूपी पत्र पर हस्ताक्षर कराया। हस्ताक्षर के लिए यह शर्त थी कि वही इस पर अंक दे सकते है जो शपथ लें कि मतदान ज़रूर करेंगे। अभिभावकों ने भी बच्चों का मनोबल बढ़ाया और उनके मतदान के अनुरोध को टाल नहीं सके।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS