ब्रेकिंग न्यूज़
राजस्थान: साथ नजर आए सचिन पायलट और अशोक गहलोत, विधायक दल की बैठक कलराजस्थान विधानसभा चुनाव में राजकुमार शर्मा ने लगाई हैट्रिकआखिरकार सैफ अली खान ने देख ही ली सारा की 'केदारनाथ', करीना कपूर देंगी पार्टीछत्तीसगढ़: बीजेपी के हारते ही मुख्यमंत्री रमन सिंह के प्रमुख सचिव ने ली लंबी छुट्टीउपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर राहुल गांधी को दी बधाई, प्रधानमंत्री मोदी पर बोला हमलाभारत और रूस के बीच युद्धाभ्यास अविन्द्रा हुआ शुरूतीन राज्यों के रुझान में कांग्रेस को बढ़त, खुशी से झूमे कांग्रेस-आरजेडी कार्यकर्तावाजपेयी, अनंत, चटर्जी को श्रद्धांजलि देने के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित
बिहार
वीआईपी कोटे से आरक्षित कराता था रेलवे टिकट, गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 24/5/2018 11:44:03 AM
वीआईपी कोटे से आरक्षित कराता था रेलवे टिकट, गिरफ्तार

पटना / मुंबई। बिहार के लोकायुक्त, उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव समेत कई राज्यों के वरिष्ठ नौकरशाहों, सांसदों और विधायकों के फर्जी लेटरहेड पर वीआईपी कोटे से रेलवे टिकट आरक्षित करानेवाले एक युवक को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मूलरूप से उत्तर प्रदेश के लखनऊ का रहनेवाला आरोपित युवक टिकट आरक्षित कराने के लिए प्रति लेटरहेड 1200-2400 रुपये वसूलता था।

 
जानकारी के मुताबिक, मूल रूप से लखनऊ के निवासी 29 वर्षीय एक व्यक्ति को कथित रूप से नेताओं और नौकरशाहों के फर्जी लेटरहेड बनाने तथा वीआईपी कोटा के तहत धनी यात्रियों को टिकट बुक कराने के लिए ‘सिफारिश' के तौर पर उन्हें भेजने को लेकर गिरफ्तार किया गया है। मुंबई के एक जीआरपी अधिकारी ने बताया कि आरोपित देवप्रताप सिंह वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को यह फर्जी पत्र बेचता था और उनसे प्रति पत्र 1200-2400 रुपये वसूलता था। 
 
इस संबंध में अधिकारी ने कहा, ‘‘अबतक की जांच के दौरान सामने आया है कि उसने महाराष्ट्र के एससीएस (गृह), उत्तरप्रदेश के मुख्य सचिव और बिहार के लोकायुक्त समेत विभिन्न राज्यों के वरिष्ठ नौकरशाहों, सांसदों और विधायकों के फर्जी लेटरहेड तैयार किये हैं।' डीसीपी (जीआरपी) समधन पवार ने कहा, ‘‘देवप्रताप सिंह प्रति पत्र करीब 1200-2400 रुपये लेता था। वह पिछले दो सालों से ऐसा कर रहा है।' स्थानीय अदालत ने उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया है।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS