ब्रेकिंग न्यूज़
सीतामढ़ी के मेजरगंज में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर दिनेश राम का मोतिहारी के बरनावाघाट पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कारकोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाले कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती- श्री तोमरपुद्दुचेरी में प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत कीसमस्तीपुर: एक मार्च से कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे फेज की होगी शुरुआतमोतिहारी के कई पुलिस पदाधिकारी इधर से उधर, छतौनी के नये एसएचओ विजय प्रसाद राय व नगर थानाध्यक्ष बने विजय प्रसाद राय,जबकि मधुबन एसएचओ पर हुई कार्यवाईमोतिहारी के कई पुलिस पदाधिकारी इधर से उधर, छतौनी के नये एसएचओ विजय प्रसाद राय व नगर थानाध्यक्ष बने विजय प्रसाद राय,जबकि मधुबन एसएचओ पर हुई कार्यवाईसमस्तीपुर : भीषण सड़क हादसे में बस व बोलेरो की हुई टक्कर, बिथान की चार छात्राओं की मौत, दर्जन भर जख्मीसमस्तीपुर: हर ब्लॉक के अस्पताल में होगी एईएस व जेई के इलाज की व्यवस्था
राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री आईआईटी खड़गपुर के 66वें दीक्षांत समारोह को करेंगे संबोधित
By Deshwani | Publish Date: 21/2/2021 8:56:26 PM
प्रधानमंत्री आईआईटी खड़गपुर के 66वें दीक्षांत समारोह को करेंगे संबोधित

दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 23 फरवरी, 2021 को 12.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आईआईटी, खड़गपुर में डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान का उद्घाटन करेंगे और आईआईटी खड़गपुर के 66वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगे। इस अवसर परपश्चिम बंगाल के राज्यपाल, केंद्रीय शिक्षा मंत्री, और केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री भी उपस्थित रहेंगे।



डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान

शिक्षा मंत्रालय के सहयोग से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर द्वारा इस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल की स्थापना की गई है। संस्थान, प्रधानमंत्री के विज़न से प्रेरित है - भारत का भविष्य, विज्ञान और नवाचार में निवेश के आधार पर तय होगा और इसे अनुसंधान प्रतिभा से गति मिलेगी। यह अस्पताल, प्रौद्योगिकी और स्वास्थ्य सेवा के बीच बेहतर तालमेल का एक उदाहरण है।



स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी उत्पादों को विकसित करने में आईआईटी खड़गपुर की विरासत को आगे बढ़ाते हुएअस्पताल,जीवचिकित्सा, नैदानिक और ट्रांसलेशनल रिसर्च, रिमोट डायग्नोस्टिक्स, टेलीमेडिसिन, टेलीरेडियोलॉजी के साथ-साथ दवा डिजाइन और वितरण संबंधी शोध पर ध्यान केंद्रित करेगा। स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट कार्यक्रमों के अलावाएमबीबीएस पाठ्यक्रम शैक्षणिक वर्ष 2021-22 से शुरू होने की उम्मीद है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS