ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल से वतन लौट रहे करीब 400 भारतीय को बीरगंज प्रशासन ने रोका, डिटेंशन सेन्टर में खाने-पीने की व्यवस्था नहीं, कर रहे भारत बुलाने की अपीलउत्तर बिहार के ख्यातिप्राप्त सर्जन डॉ. आशुतोष शरण ने PM Cares Fund व CM Releaf Fund को दी कुल 2 लाख 50 हजार की आर्थिक सहायता, पूरी की दिली ख्वाहिशपूर्व केन्द्रीय कृषिमंत्री मोतिहारी सांसद लॉकडाउन में देशभर में फंसे सैकड़ो चंपारणवासियों को भोजन मुहैया करा रहे हैंलोगों के अनुरोध पर आपातकाल में प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष - PM CARES की घोषणा, नोट करें खाता नम्बरहाइड्रो-ऑक्‍सी-क्‍लोरोक्विन कोविड- 19 में कारगर, आवश्‍यक दवा घोषित, बिक्री और वितरण नियंत्रित करने संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की अधिसूचना जारीपूरे देश में 562 संक्रमित मामलों की पुष्टि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने की, 41 संक्रमित मरीज हुए स्वस्थईरान से एयरइंडिया के विशेष विमान से लाये गये 277 लोग आज सुबह पहुंचे जोधपुर हवाई अड्डाआज शाम प्रधानमंत्री अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करेंगे बातचीत
राष्ट्रीय
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई
By Deshwani | Publish Date: 19/2/2020 1:11:54 PM
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई

नई दिल्ली वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन आज विभिन्‍न मंत्रालयों के सचिवों से चीन में नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण के बाद कच्‍चे माल की आपूर्ति में बाधा को लेकर विचार-विमर्श करेंगी। कल उन्‍होंने उद्योग और अन्‍य संगठनों के साथ बातचीत में संक्रमण के फैलाव से भारत के व्‍यापार पर किसी आशंका का आकलन किया था।

 
 
बैठक के बाद वित्‍त मंत्री ने संवाददाताओं को बताया कि फार्मास्‍युटिकल, रसायन, कपड़ा, वाहन, पेन्‍ट और दूर संचार क्षेत्र के प्रतिनिधियों ने अपने विचार साझा किए। उन्‍होंने बताया कि बैठक के दौरान रसायन, औषधि और सौर उपकरण निर्माताओं ने चीन से कच्‍चे माल की आपूर्ति में बाधा के बारे में खुलकर अपनी बातें सामने रखी। वित्‍त मंत्री ने कहा कि सचिव स्‍तर की बैठक के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ विचार-विमर्श किया जाएगा और जितनी जल्‍दी हो सके इस बारे में उपायों की घोषणा की जाएगी।
 
 
श्रीमती सीतारामन ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मूल्‍य वृद्धि को लेकर किसी चिंता की जरूरत नहीं है। उन्‍होंने कहा कि मेक इन इंडिया पहल पर संक्रमण के असर पर कुछ कहना अभी जल्‍दबाजी होगी। उद्योग संगठनों के साथ हुई बैठक में सीमा शुल्‍क सहित केन्‍द्रीय मंत्रालयों और विभागों के वरिष्‍ठ अधिकारी, विभिन्‍न  सेक्‍टर तथा भारतीय उद्योग संघ- सीआईआई, भारतीय उद्योग और वाणिज्‍य मंडल- फिक्‍की और एसोचैम के प्रतिनिधि शामिल हुए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS