ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरल
राष्ट्रीय
आज से सभी वाहनों के लिए स्वचालित टोल टैक्स भुगतान की अनिवार्य फास्टैग व्यवस्था लागू
By Deshwani | Publish Date: 15/12/2019 12:16:00 PM
आज से सभी वाहनों के लिए स्वचालित टोल टैक्स भुगतान की अनिवार्य फास्टैग व्यवस्था लागू

नई दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय इलैक्ट्रॉनिक टोल संकलन प्रणाली लागू की है जिससे फास्टैग के माध्यम से शुल्क संकलित किया जाएगा और समय तथा ईंधन की बचत, प्रदूषण में कमी और यातायात का निर्बाध आवागमन सुनिश्चित होगा। फास्टैग के इस्तेमाल से चालकों को शुल्क के भुगतान के लिये टोल प्लाज़ा पर अपने वाहन रोकने की आवश्यकता नहीं होगी।

 
 
भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण-एन.एच.ए.आई. ने टोल प्लाज़ा पर शुल्क संकलन के लिये इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली लगाई है। फास्टैग के प्रयोग से रेडियो फ्रीक्वेन्सी पहचान प्रौद्योगिकी के माध्यम से चलते वाहन से टोल शुल्क का भुगतान किया जाता है। अगर कोई चालक बिना फास्टैग लगे वाहन को इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह लेन में ले जाता है तो उसे दुगना शुल्क देना होगा। 
 
 
इससे पहले यह तय किया गया था कि टोल प्लाज़ा पर एक लेन को छोड़कर सभी लेन को फास्टैग लेन घोषित किया जाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एन.एच.ए.आई. से कहा है कि 75 प्रतिशत टोल लेन से इलेक्ट्रॉनिक तरीके से शुल्क का संग्रह किया जाना चाहिए और अस्थाई रूप से 25 प्रतिशत फास्टैग लेन को हाइब्रिड लेन में बदला जाये। मंत्रालय ने कहा कि यह अस्थाई व्यवस्था केवल 30 दिन के लिये रहेगी ताकि यातायात सुचारू रूप से जारी रहे और किसी चालक को कोई असुविधा न हो।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS