ब्रेकिंग न्यूज़
दिल्ली में आज से दो दिन लगेंगे वीकली मार्केट, 31 अक्टूबर तक जारी रहेंगे अन्य प्रतिबन्धशेयर बाजार: सेंसेक्स 629 अंक उछलकर 38,697 और निफ्टी 175 अंकों की तेजी के साथ 11,422 के स्तर पर बंदराजनाथ सिंह ने किया किसानों को आश्वस्त, कहा- न्यूनतम समर्थन मूल्य में आने वाले सालों में होती रहेगी वृद्धिभारत पहुंचा राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री का अभेद्य किला 'एयर इंडिया वन' विमान, जानें इसकी खासियतेंहाथरस कांड: पुलिस की बर्बरता के खिलाफ देशभर में कांग्रेसी कार्यकर्ता करेंगे प्रदर्शननिर्भया को इंसाफ दिलाने वाली सीमा लड़ेंगी हाथरस की बेटी का केस, पीड़ित परिवार से करेंगीं मुलाकातसीजफायर का उल्लंघन कर पाकिस्तान ने की LOC पर भारी गोलीबारी, भारतीय सेना के 3 जवान शहीद, 5 घायलराहुल गांधी की पुलिस के साथ जबर्दस्त झड़प, धक्कामुक्की के बाद सड़क पर गिरे, धरने पर बैठे, गिरफ्तार
राष्ट्रीय
शिवसेना के मुखपत्र सामना में जया बच्चन की जमकर तारीफ, कही गई ये बातें
By Deshwani | Publish Date: 16/9/2020 1:00:44 PM
शिवसेना के मुखपत्र सामना में जया बच्चन की जमकर तारीफ, कही गई ये बातें

नई दिल्ली। सुशांत की मौत के बाद ड्रग मामले में हो रही जांच की वजह से बॉलीवुड की काफी ज्यादा आलोचना हो रही है। जब बॉलीवुड और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को गटर कहा गया तो इस पर राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने इशारों-इशारों में रवि किशन और कंगना पर जमकर निशाना साधा।
 
जया बच्चन द्वारा हिंदी फिल्म उद्योग को बदनाम करने को लेकर संसद में दिए गए बयान की शिवसेना ने भी जमकर तारीख की है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया है कि फिल्म अभिनेत्री जया बच्चन के विचार जितने महत्वपूर्ण हैं, उतने ही बेबाक भी हैं। बता दें कि जया बच्चन की यह टिप्पणी लोकसभा सांसद रवि किशन की टिप्पणी के एक दिन बाद आई थी। उन्होंने रवि किशन पर तीखा हमला बोला था। हालांकि जया ने अपने भाषण में किसी का नाम नहीं लिया था।
 
सामना में लिखा गया है, 'देश का सिनेमा जगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा दावा कोई नहीं कर सकता। मगर कुछ टीनपाट कलाकार दावा करते हैं कि सिनेमा जगत 'गटर' है, ये भी नहीं कहा जा सकता है और जया बच्चन ने संसद में इसी पीड़ा को व्यक्त किया।' सामना में लिखा है, 'सिनेमा ने जिन लोग को सब कुछ दिया, वही लोग अब इसे गटर की उपमा दे रहे हैं।' 
 
सामना में लिखा है, 'जया बच्चन सच बोलने और अपनी बेबाकी के लिए जानी जाती हैं। वो अपने राजनीतिक और सामाजिक विचारों को कभी छुपानी नहीं है। उन्होंने महिलाओं पर अत्याचार के खिलाफ संसद में आवाज उठाई है। जब सिनेमा जगत की बदनामी हो रही है, अक्सर तांडव करने वाले अच्छे-खासे पांडव चुप हैं। पर्दे पर वीरता और लड़ाकू भूमिका निभाने वाले कलाकार भी मन और विचारों पर ताला लगाए हुए हैं, ऐसे में जया का गुस्सा फूटा है।'
 
शिवसेना ने आगे लिखा कि जया बच्चन का कहना है कि मनोरंजन जगत में जब लाइट, कैमरा, एक्शन बंद है तब मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए बॉलीवुड को सोशल मीडिया पर बदनाम किया जा रहा है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS