ब्रेकिंग न्यूज़
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की आतंकवाद को अपनी कार्य नीति का हिस्सा बना लिया पाकिस्तानसरकार अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से पटरी पर लाने के लिए और उपाय कर रही: निर्मला सीतारमन्कुशीनगर में बुद्ध महापरिनिर्वाण मंदिर के समीप नया गेट बनवाने पर कई अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्जजन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनंद को किया गया बर्खास्‍तझारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण की 20 सीटों पर मतदान जारीबिहार में बलात्‍कारियों को गोली मारने वालों को पप्‍पू यादव देंगे 5 लाख, कहा-हैदराबाद एनकाउंटर टीम को देंगे 50-50 हजारभारत ने आज 13वें दक्षिण एशिया खेलों में 2 स्वर्ण सहित 12 पदक जीतेपॉक्‍सो अधिनियम के तहत दोषियों के लिए नहीं होना चाहिए दया याचिका का प्रावधान: रामनाथ कोविंद
राष्ट्रीय
शीतकालीन सत्र: साइकिल से संसद भवन पहुंचे सांसद मनोज तिवारी, केजरीवाल सरकार के लिए कही ये बात
By Deshwani | Publish Date: 18/11/2019 1:47:20 PM
शीतकालीन सत्र: साइकिल से संसद भवन पहुंचे सांसद मनोज तिवारी, केजरीवाल सरकार के लिए कही ये बात

नई दिल्ली। संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो गया है। ऐसे में राजधानी में बढ़ते प्रदूषण का असर संसद भवन में भी देखने को मिल रहा है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर इलेक्ट्रिकल कार से संसद भवन पहुंचे, वहीं, मनोज तिवारी साइकिल चलाकर शीतकालीन सत्र में भाग लेने पहुंचे। मनोज तिवारी को खुद साइकिल चलाते देख लोगों की भीड़ जुट गई। 

 
 
संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होते ही राजनीतिक पारा चढ़ने लगा है। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में हेल्थ इमरजेंसी है, हवा साफ है लेकिन पानी पीने लायक नहीं है। उन्होंने बताया कि दिल्ली के लोगों को साफ पानी नहीं मिल रहा है और केजरीवाल सरकार झूठे दावे कर रही है। मालूम हो कि आज दिल्ली भाजपा 400 जगहों पर केजरीवाल सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी।
 
उन्होंने कहा कि हम मिल बैठकर इस समस्या का समाधान कर रहे हैं। ये कहना कि हमारे आने से प्रदूषण बढ़ा और हमारे जाने के बाद घट जाएगा तो ये गलत है। इस समस्या के समाधान के लिए हम कई अहम कदम उठा रहे हैं।
 
राजधानी पहले ही वायु प्रदूषण से जूझ रही है वहीं पीने के पानी को लेकर भी लोग परेशान है। दिल्ली में पानी की गुणवत्ता इतनी खराब हो चुकी है कि कई तरह के जहरीले रसायन और बदबू से बीमारियों की आशंका भी बनी हुई है।
 
सरकार रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली के पानी में अमोनिया, नाइट्रेट, सल्फाइड, मैंगनीज, आयरन, खतरनाक रसायनों की मौजूदगी के अलावा क्षारीयता, पीएच वैल्यू और रंग भी मानकों के मुताबिक नहीं है। दिल्ली के 11 स्थानों से लिए गए पानी के सभी सैंपल की गुणवत्ता जांच में फेल हो गए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS