ब्रेकिंग न्यूज़
पश्चिम बंगाल के हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में कराया जाए पुनर्मतदान: भाजपाटेनिस: राफेल नडाल नौवीं बार इटालियन ओपन चैंपियन का खिताब किया अपने नामपेट्रोल पंप के मैनेजर को गोली मार कर अपराधियों ने लूट लिये 10 लाख रुपये, जांच में जुटी पुलिसहथियारबंद अपराधियों ने बैंक में की लूटपाट, कर्मियों की सूझबूझ से बचा लॉकरगिरफ्तारी से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे आईपीएस राजीव कुमार, मांगी एक हफ्ते की राहतकाला धन मामला: सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से की हाईकोर्ट के फैसले पर रोक की मांग, सुनवाई कलपुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में तीन जवान घायल, सघन सर्च ऑपरेशन जारीअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की ईरान को चेतावनी, कहा- युद्ध करने का दुस्साहस किया तो मिट जाएगा
राष्ट्रीय
टिक टॉक ऐप पर 24 तक फैसला करे मद्रास हाईकोर्ट, वर्ना हट जाएगा बैन: सुप्रीम कोर्ट
By Deshwani | Publish Date: 22/4/2019 5:55:35 PM
टिक टॉक ऐप पर 24 तक फैसला करे मद्रास हाईकोर्ट, वर्ना हट जाएगा बैन: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। टिक टॉक ऐप पर रोक के मामले पर सुनवाई के दौरान ऐप बनाने वाली कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि मद्रास हाईकोर्ट ने बिना हमारा पक्ष सुने रोक लगा दी है। हर दिन करोड़ों का नुकसान हो रहा है।

 
सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट को निर्देश दिया कि वो इस मामले पर 24 अप्रैल तक फैसला करे। कोर्ट ने ऐप के निर्माता को निर्देश दिया कि आप हाईकोर्ट में अपना पक्ष रखें। अगर उस दिन हाईकोर्ट ने कोई आदेश नहीं दिया तो रोक हटी हुई मानी जाएगी ।
 
15 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने टिक टॉक ऐप पर मद्रास हाईकोर्ट के बैन लगाने के आदेश पर रोक लगाने से मना कर दिया था। कोर्ट ने ऐप के निर्माता कंपनी से कहा था कि हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान अपना पक्ष रखें। मद्रास हाईकोर्ट की मदुरै बेंच के बैन के आदेश के खिलाफ ऐप निर्माता कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।
 
याचिकाकर्ता की ओर से वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा था कि इस ऐप को एक बिलियन बार डाउनलोड किया जा चुका है लेकिन हाईकोर्ट ने इसे एक वकील की याचिका पर इसकी डाउनलोडिंग पर बैन लगा दिया। हाईकोर्ट ने हमें अपनी बात रखने का मौका भी नहीं दिया । ऐप बनाने वाली कंपनी ने मद्रास हाईकोर्ट के आदेश पर रोक से मांग की है। मद्रास हाईकोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया था कि ऐप की डाउनलोडिंग पर रोक लगे। मीडिया से भी कहा था कि इस ऐप से बने वीडियो का प्रसारण न करे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS