ब्रेकिंग न्यूज़
दिग्‍व‍िजय भोपाल से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, 30 साल से यहां जीत नहीं पाई है कांग्रेसराम मनोहर लोहिया का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशानासुरक्षाबलों को सर्च अभियान के दौरान मिली सफलता, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामदहाइवा की चपेट में आने से युवक की मौत, विरोध में लोगों ने किया सड़क जामकांग्रेस की सरकार आई तो दस दिन में किसान का कर्जा होगा माफ: राहुल गांधीआईपीएल 2019: आईपीएल के शुरुआती 6 मैचों में नहीं खेलेंगे लसिथ मलिंगा, सामने आई ये वजहमणिकर्णिका' के बाद कंगना का बड़ा धमाका, जयललिता की बायोपिक से जुड़ा नामकरमबीर सिंह होंगे अगले नौसेना प्रमुख, सुनील लांबा 31 मई को हो रहे हैं रिटायर
राष्ट्रीय
जातिवादी और सांप्रदायिक सोच की वजह से देश में बढ़ रही विकृतियां: मायावती
By Deshwani | Publish Date: 19/2/2019 5:50:34 PM
जातिवादी और सांप्रदायिक सोच की वजह से देश में बढ़ रही विकृतियां: मायावती

लखनऊ। बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने संत रविदास जयंती के अवसर पर आज कहा कि बीजेपी द्वारा संकीर्ण, जातिवादी व साम्प्रदायिक द्वेष का व्यवहार करने के कारण ही देश में आज अनेकों प्रकार की विषमताएं व विकृतियां पहले से काफी ज्यादा बढ़ गयी हैं और समाज का तानाबाना बिखरता जा रहा है और देश की जनता का जीवन कठिन होता जा रहा है।

 
मायावती ने एक बयान जारी कर यह बातें कही। उन्होंने कहा कि आज के संकीर्ण व जातिवादी माहौल में उनके मानवतावादी संदेश की बहुत ही ज़्यादा अहमियत है और मन को हर लिहाज़ से वास्तव में चंगा करके जीवन गुजारने की ज़रूरत है। ख़ासकर सत्ताधारी पार्टी के लोगों को चाहिये कि वे केवल उन्हें स्मरण करने की रस्म नहीं निभाएं बल्कि इससे पहले अपने मन को संकीर्णता, जातिवाद व साप्रदायिकता आदि से पाक करें क्योंकि छोटे मन से कोई भी बड़ा नहीं हो सकता।
 
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग सत्ता में रहने के बावजूद हर समस्या का राजनीतिकरण करके केवल लम्बी-चैड़ी बयानबाज़ी व लोगों को भावनात्मक रूप से ब्लैकमेल करने की कोशिश में ही लगातार लगे रहते हैं और वर्तमान में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के अति-घातक आतंकी हमले के मामले में भी देश में हर तरफ यही दिखाई पड़ रहा है। बीजेपी को समझना चाहिये कि इस प्रकार की राजनीति से देश का कोई भला होने वाला नहीं है। इसलिये बीजेपी को देश हित के मद्देनज़र मूल तौर पर अपना रवैया बदलने की जरूरत है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS