ब्रेकिंग न्यूज़
इंदिरा गांधी की जयंती आज, पीएम मोदी, सोनिया समेत अनेक नेताओं ने दी श्रद्धांजलिबरौनी-कानपुर पाइप लाइन में लीकेज, तेल लूटने के लिए ग्रामीणों में मची अफरा-तफरीगांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने पर विपक्ष का लोकसभा में हंगामा, सदन 2 बजे तक स्थगितझारखंड विधानसभा चुनाव: जमीनी जंग को धार देने में जुटी भाजपा, प्रधानमंत्री मोदी-शाह, नड्डा-गडकरी की होगी रैलीभारत लॉन्च करेगा कार्टोसैट-3, पाकिस्तान की नापाक हरकतों और आतंकी गतिविधियों पर रखेगा नजरअमेरिका ने दिया फिलिस्तीन को एक और झटका, विवादित वेस्ट में यहूदी बस्तियों की वैधता पर लगा दी मोहरमहाराष्ट्र में सरकार गठन की कवायद के बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का अयोध्या दौरा स्थगितपश्चिम अफ्रीका: माली में सेना पर आतंकी हमला, 24 जवानों की मौत, 29 घायल
राष्ट्रीय
चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- अपमानित करने के लिए जेल में रखना चाहती है सीबीआई, सुनवाई कल
By Deshwani | Publish Date: 15/10/2019 5:12:16 PM
चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- अपमानित करने के लिए जेल में रखना चाहती है सीबीआई, सुनवाई कल

नयी दिल्ली। आईएनएस मीडिया मामले में पी. चिदंबरम की जमानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई बुधवार तक के लिए टाल दी है। सुप्रीम कोर्ट से पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने आज कहा कि सीबीआई उन्हें अपमानित करने के लिए जेल में रखना चाहती है। इसके पहले उन्होंने शीर्ष अदालत से जमानत देने की अपील की थी, जिसका सीबीआई ने विरोध किया। 
 
शीर्ष कोर्ट से पी चिदंबरम ने कहा कि ऐसा कोई भी आरोप नहीं है कि मैंने या मेरे परिवार के सदस्यों ने मामले में कभी किसी गवाह से संपर्क करने या उसे प्रभावित करने की कोशिश की हो। उन्होंने अदालत को बताया कि आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में फंड की हेराफेरी या वित्तीय नुकसान के कोई आरोप नहीं है।
 
इससे पहले, आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में जवाब दाखिल किया। सीबीआई ने पी चिदंबरम की जमानत अर्जी का विरोध किया। सीबीआई ने कहा इस मामले की जांच अभी चल रही है। चिदंबरम बेहद प्रभावशाली व्यक्ति है, जो गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। 
 
सीबीआई ने कहा कि दिल्ली हाईकोर्ट ने भी अपने फैसले में माना है कि पी चिदंबरम गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। उसने कहा है कि पी चिदंबरम ने दो गवाहों को प्रभावित करने की कोशिश की। ऐसे में उनकी जमानत याचिका खारिज होनी चाहिए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS