ब्रेकिंग न्यूज़
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की आतंकवाद को अपनी कार्य नीति का हिस्सा बना लिया पाकिस्तानसरकार अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से पटरी पर लाने के लिए और उपाय कर रही: निर्मला सीतारमन्कुशीनगर में बुद्ध महापरिनिर्वाण मंदिर के समीप नया गेट बनवाने पर कई अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्जजन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनंद को किया गया बर्खास्‍तझारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण की 20 सीटों पर मतदान जारीबिहार में बलात्‍कारियों को गोली मारने वालों को पप्‍पू यादव देंगे 5 लाख, कहा-हैदराबाद एनकाउंटर टीम को देंगे 50-50 हजारभारत ने आज 13वें दक्षिण एशिया खेलों में 2 स्वर्ण सहित 12 पदक जीतेपॉक्‍सो अधिनियम के तहत दोषियों के लिए नहीं होना चाहिए दया याचिका का प्रावधान: रामनाथ कोविंद
बिहार
गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश ने दी देशवासियों को बधाई
By Deshwani | Publish Date: 12/11/2019 5:00:55 PM
गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश ने दी देशवासियों को बधाई

पटना। गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश एवं देशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरुनानक देव जी सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले गुरु थे। गुरुनानक जी के व्यक्तित्व में दार्शनिक, योगी, गृहस्थ, धर्म संस्थापक, समाज सुधारक, कवि, देशभक्त एवं विश्वबंधु के गुण मिलते हैं। उन्होंने शांति, दया एवं मानवता का पवित्र संदेश देने के लिये चारों दिशाओं में बड़े पैमाने पर यात्राएं की थीं जिन्हें ‘उदासी’ नाम से जाना जाता है।

 
मुख्यमंत्री ने कहा गुरुनानक देव जी महाराज के 550वें प्रकाश पर्व को राजगीर में 27 से 29 दिसंबर 2019 तक मनाया जायेगा। राजगीर में जहां गुरुनानक देव जी ने जमीन पर अपना चरण छुआकर शीतल जल का फुहारा प्रकट कर दिया था। वह स्थान शीतल कुंड के नाम से विख्यात है। राजगीर में उसी स्थान पर गुरुद्वारा शीतल कुंड का निर्माण कराया जा रहा है जिसका 11 जनवरी 2019 को शिलान्यास करने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हुआ।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरुनानक देव जी के समग्र एवं समरस समाज बनाने के सपने को पूरा करने के लिये हम सभी को मिलकर काम करना चाहिए। गुरुनानक देव जी ने ‘इक ओकांर’ का नारा दिया था यानी ईश्वर एक है। गुरुनानक देव जी कहा करते थे कि किसी  भी तरह के लोभ को त्याग कर, अपने हाथों से मेहनत कर और न्यायोचित तरीकों से धन का अर्जन करना चाहिए। कभी भी किसी का हक नहीं छीनना चाहिए बल्कि मेहनत और ईमानदारी की कमाई में से जरूरतमंदों की भी मदद करनी चाहिए। धन को जेब तक ही सीमित रहना चाहिए, उसे अपने हृदय में स्थान नहीं बनाने देना चाहिए अन्यथा नुकसान हमारा ही होता है। हम सभी को गुरुनानक देव जी के संदेशों को अपने जीवन में उतारने की कोशिश करनी चाहिए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS