ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के मशहूर सर्जन डा आशुतोष शरण को माधुरी दीक्षित के हाथों मुंबई में मिला ग्लोबल एक्सिलेंस अवार्डमार्केटिंग कंपनी ग्लेज ट्रेडिंग इंडिया प्राईवेट लिमिटेड कंपनी से तीन युवक गिरफ्तारअधूरे टीकाकरण में इंद्रधनुष भरेगा रंग, चार चरणों में होगा टीकाकरणधारा 370 संपर्क अभियान के तहत पांच बुद्धिजीवी एवं प्रबुद्ध नागरिकों से मिलकर प्रतिनिधिमंडल ने इन विषय में दी जानकारीचिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- अपमानित करने के लिए जेल में रखना चाहती है सीबीआई, सुनवाई कलडबल इंजन के कारण झारखंड में विकास की गति हुई दोगुनी: सुधांशु त्रिवेदीअगला युद्ध स्वदेशी शस्त्र प्रणालियों के साथ लड़ेंगे और जीतेंगे: बिपिन रावतश्रीनगर में अनुच्छेद 370 को हटाये जाने के खिलाफ महिलाओं का प्रदर्शन, हिरासत में ली गई फारुक अब्दुल्ला की बहन और बेटी
राष्ट्रीय
कांग्रेस पर जमकर बरसे शाह, कहा- तीन पीढ़ियां बदलीं, नहीं हटा पाईं अनुच्छेद 370
By Deshwani | Publish Date: 9/10/2019 5:49:17 PM
कांग्रेस पर जमकर बरसे शाह, कहा- तीन पीढ़ियां बदलीं, नहीं हटा पाईं अनुच्छेद 370

कैथल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृहमंत्री अमित शाह आज हरियाणा के दौरे पर है। कैथल में आज उन्होंने हरियाणा विधानसभा चुनाव अभियान का आगाज किया। विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तीन पीढ़ियां बदल गईं, लेकिन कांग्रेस की सरकारें जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 नहीं हटा पाईं। ऐसा नहीं कि यह अनुच्छेद हट नहीं सकता था, लेकिन कांग्रेस के पास हटाने की हिम्मत नहीं थी, मगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दूसरे कार्यकाल के पहले ही संसद सत्र में 370 को खत्म करने का काम किया। कांग्रेस ने अनुच्छेद हटाने का विरोध किया।

अमित शाह ने कहा कि राजनाथ सिंह ने राफेल की शस्त्र पूजा की, लेकिन कांग्रेस देश की इस परंपरा से खुश नहीं हुई। उन्होंने कहा 'कल विजयादशमी थी, जो बुराई पर अच्छाई की प्रतीक है और यह शस्त्र पूजन करके मनाई जाती है। मैं देश के प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री को बधाई देता हूं कि कल के ही दिन उन्होंने राफेल को हमारी वायुसेना में शामिल करके देश कि सुरक्षा को सुदृढ़ करने का काम किया है।'

शाह ने कहा कि वे राहुल गांधी से पूछना चाहते हैं कि क्या वे हरियाणा में आकर अनुच्छेद-370 हटाने के मुद्दे पर केंद्र सरकार के साथ हैं या विरोध में हैं? उन्होंने उपस्थित जनसमूह से भी पूछा, क्या एक देश में दो झंडे और दो प्रधानमंत्री हो सकते हैं? मगर भाजपा के हर निर्णय का विरोध करना कांग्रेस की आदत बन चुकी है।

उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस को सोचना चाहिए कि किस चीज का विरोध करना है और किसका नहीं। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 व 35-ए हटाने पर कैथल के साथ देश की जनता ने मोहर लगाई है। मगर कांग्रेस अनुच्छेद-370 हटाने से लेकर तीन तलाक एवं देश से घुसपैठियों को बाहर निकालने का भी विरोध कर ही है।

शाह ने कहा कि एनआरसी लागू करना भी कांग्रेस को रास नहीं आ रहा है। उन्होंने कैथल की जनता से इस बार प्रदेश में दोबारा भाजपा सरकार बनाने के साथ 75 पार के लक्ष्य को पूरा करने का सहयोग मांगा। साथ ही कहा कि हरियाणा में चुनाव शुरू हो चुका है, लेकिन विरोधियों को समझ में नहीं आ रहा है कि चुनाव पूर्व से शुरू करें या पश्चिम से। विपक्ष पूरी तरह गफलत में है। विजय दशमी के दिन राफेल को सेना में शामिल के लिए उन्होंने पीएम व रक्षा मंत्री को बधाई देते हुए कहा कि राफेल का सेना में शामिल होना भी कांग्रेस को बुरा लग रहा है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि पांच साल पहले वे भाजपा अध्यक्ष के नाते वोट मांगने आए थे। जनता ने भाजपा सरकार बनाने का मौका भी दिया और मुख्यमंत्री मनोहर लाल बने। पांच साल के अंदर हरियाणा में बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। अब जाति के आधार पर काम नहीं होते। सरकार की कोई जाती नहीं है, हर आदमी की सरकार है। मगर चौटाला आता था तो गुंडागर्दी बढ़ती थी और हुड्‌डा आता था तो भ्रष्टाचार संग लाता था। नौकरियों का बाजार अब बीते जमाने की बात हो गई है। युवाओं को योग्यता एवं मेरिट के आधार पर नौकरियां दी जा रही हैं।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री कुछ करते हैं तो कैथल के सुरजेवाला यानि कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता के पेट में दर्द होता है। अमेरिका में मोदी का भव्य सम्मान हुआ तो सुरजेवाला के पेट में दर्द हुआ। वे सवाल उठाते हैं कि पीएम विश्व भ्रमण पर ही रहते हैं। मगर यह सच्चाई है कि मोदी से ज्यादा कांग्रेस प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह विदेश में गए हैं। वे केवल मैडम द्वारा टाइप किए दो पन्ने पढ़कर आ जाते थे। इसलिए लोगों को पता नहीं चलता था कि पीएम विदेश में हैं।आज विदेश में एयरपोर्ट पर ही मोदी का स्वागत करने के लिए लाखों लोग उमड़ पड़ते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति भी हैरान रह गए कि इतने लोग मोदी के सुनने कहां से आ गए।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS