ब्रेकिंग न्यूज़
दिग्‍व‍िजय भोपाल से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, 30 साल से यहां जीत नहीं पाई है कांग्रेसराम मनोहर लोहिया का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशानासुरक्षाबलों को सर्च अभियान के दौरान मिली सफलता, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामदहाइवा की चपेट में आने से युवक की मौत, विरोध में लोगों ने किया सड़क जामकांग्रेस की सरकार आई तो दस दिन में किसान का कर्जा होगा माफ: राहुल गांधीआईपीएल 2019: आईपीएल के शुरुआती 6 मैचों में नहीं खेलेंगे लसिथ मलिंगा, सामने आई ये वजहमणिकर्णिका' के बाद कंगना का बड़ा धमाका, जयललिता की बायोपिक से जुड़ा नामकरमबीर सिंह होंगे अगले नौसेना प्रमुख, सुनील लांबा 31 मई को हो रहे हैं रिटायर
राज्य
मध्य प्रदेश: शहीद अश्विनी का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा, अंतिम विदाई देने के लिए हजारों लोग जुटे
By Deshwani | Publish Date: 16/2/2019 4:11:24 PM
मध्य प्रदेश: शहीद अश्विनी का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा, अंतिम विदाई देने के लिए हजारों लोग जुटे

जबलपुर। पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवान और जबलपुर के बेटे अश्विनी कुमार काछी (32) का पार्थिव शरीर उनके गांव सिहोरा-खुड़ावल पहुंच चुका है। वीर शहीद को श्रद्धाजंलि देने हजारों लोग पहुंचे हैं। लोग नम आंखों से शहीद वीर सपूत को अंतिम विदाई दे रहे हैं। 

 
मुख्यमंत्री कमलनाथ और विपक्ष के नेता गोपाल भार्गव समेत कई मंत्री भी शहीद को अंतिम विदाई देने जाएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी शहीद के परिजनों से मिलने और उन्हें श्रद्धाजंलि देने शहीद अश्विनी के गांव पहुंचेंगे।
 
 
अश्विनी का पार्थिव शरीर दोपहर 12 बजे पैतृक गांव सिहोरा खुडावल लाया जाएगा। यहां पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ जबलपुर पहुंच चुके हैं और यहां हाईकोर्ट में आयोजित न्यायाधीश संघ सम्मेलन में भाग ले रहे हैं। इसके बाद वह शहीद के गांव सिहोरा-खुड़ावल के लिए रवाना होंगे। 
 
 अपने कलेजे के टुकड़े के शहीद होने की खबर सुनने के बाद से ही मां रो-रोकर बेसुध सी हो गई हैं। रह-रहकर अपने बेटे को याद करती हैं और सरकार से बदला लेने की मांग कर रही है। अपने छोटे भाई को खोने के बाद बड़े भाई भी गमगीन हैं। उनकी आंखें भी रह-रहकर भर आ रही हैं। बात करते-करते गला रुंध जाता है। फिर भी उन्हें फक्र है कि कम उम्र में ही भाई देश के लिए शहीद हो गया।
 
पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में लोग पुराना बस स्टैंड से लेकर मझौली बायपास तिराहे तक अपने हाथों में तिरंगा लेकर इंतजार कर रहे हैं। वहीं बड़ी संख्या में पुलिस के जवान अर्ध सैनिक बल अधिकारी भी मौके पर उपस्थित हैं। फिलहाल शूरवीर की शव यात्रा मझौली बायपास सिहोरा पहुंच चुकी है। शहीद को अंतिम विदाई देने के लिए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और जबलपुर सांसद राकेश सिंह, महापौर स्वाती गोडबोले, भाजपा विधायक अजय बिश्नोई, इंदू तिवारी के अलावा बड़ी संख्या में लोग पुराना बस स्टैंड पहुंच चुके हैं।
 
 
आतंकियों की इस कायराना हरकत करतूत से उनका परिवार गुस्से में है। अश्विनी के पिता ने कहा कि सरकार पुलवामा घटना का जवाब दे, खून का बदला खून से लिया जाए। पहले देश आता है, मैं चाहता हूं कि खुडावल का हर जवान सेना में जाए। सुकरी काछी के पड़ोसी रविकांत यादव के मुताबिक चार भाइयों और एक बहन में अश्विनी सबसे छोटा था।
 
पुलवामा के आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ के जवान अश्विनी कुमार (36) के पिता सुकरी काछी ने कहा कि वे चाहते हैं कि गांव का हर जवान सेना में जाए। अश्विनी कुमार के परिवार ने सरकार से मांग की है कि आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाए।  
 
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आतंकी हमले में शहीद जबलपुर जिले के अश्विनी कुमार काछी को बहादुर नौजवान और पूरे प्रदेश को उन पर गर्व होने की बात कही थी। कमलनाथ ने कहा कि यह शहादत बताती है कि  हमारे प्रदेश के नौजवानों में देश की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने का साहस है। उनकी वीरता का ही परिणाम है कि दुश्मन कायराना हमले पर उतर आया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS