ब्रेकिंग न्यूज़
महाराष्ट्र में शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले का भव्य स्वागतआरपीएफ ने आजादी का अमृत महोत्सव मनायाकैबिनेट ने घरेलू उत्पादित कच्चे तेल की बिक्री के विनियमन को मंजूरी दीविषम परिस्थितियों के बावयूद मोतिहारी का प्रेपरेटरी स्कूल-शिक्षायतन अपने मानक पर उतर रहा खराजी-7 शिखर सम्‍मेलन में भाग लेने भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी रविवार को जर्मनी के शहर म्‍यूनिख पहुंचेकतिपय चिकित्सक व जांचघर चला रहे अवैध ब्लड बैंक के वीडियों क्लिप के बाद जिलाधिकारी दिए जांच के आदेश, होगी कार्रवाईशिवसेना में गतिरोध जारी, विधानसभा के उपाध्यक्ष ने शिंदे गुट के 16 विधायकों को नोटिस जारी कर 48 घंटे में जवाब देने को कहासबसे कमजोर तबके के जीवन में बदलाव लाना ही वास्तविक विकास-नरेंद्र सिंह तोमर
राज्य
इस्पात मंत्री ने गुजरात के सूरत में इस्पात स्लैग से निर्मित पहली छह लेन वाली राजमार्ग सड़क का किया उद्घाटन
By Deshwani | Publish Date: 15/6/2022 11:29:04 PM
इस्पात मंत्री ने गुजरात के सूरत में इस्पात स्लैग से निर्मित पहली छह लेन वाली राजमार्ग सड़क का किया उद्घाटन

दिल्ली केंद्रीय इस्पात मंत्री श्री रामचंद्र प्रसाद सिंह ने आज गुजरात के सूरत में शहर के साथ पत्तन को जोड़ने के लिए इस्पात स्लैग (धातु की तलछट या मैल) के उपयोग से निर्मित पहली छह लेन वाली राजमार्ग सड़क का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मंत्री ने सभी अपशिष्ट को संपत्ति में परिवर्तित करके सर्कुलर (चक्रीय) अर्थव्यवस्था और संसाधन दक्षता को बढ़ावा देने की जरूरत पर जोर दिया।

 
 
 
 
 
उन्होंने 15 अगस्त, 2021 को दिए गए प्रधानमंत्री के भाषण को याद किया। मंत्री श्री सिंह ने चक्रीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की जरूरत का विशेष उल्लेख किया, क्योंकि विश्व में सभी प्रकार के प्राकृतिक संसाधनों की कमी हो रही है। उन्होंने आगे कहा, “ऐसी स्थिति में चक्रीय अर्थव्यवस्था समय की मांग है और इसे हमारे जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा बनाने की जरूरत है। इस्पात प्रसंस्करित स्लैग के 100 फीसदी उपयोग से निर्मित सड़क अपशिष्ट को संपत्ति में बदलने और इस्पात संयंत्रों की स्थिरता में सुधार का एक वास्तविक उदाहरण है।” मंत्री ने आगे कहा कि सड़क निर्माण में ऐसी सामग्री के उपयोग से न केवल टिकाऊपन बढ़ेगा, बल्कि निर्माण की लागत को कम करने में भी सहायता मिलेगी, क्योंकि स्लैग आधारित सामग्री में प्राकृतिक घटकों की तुलना में बेहतर विशेषताएं होती हैं। उन्होंने कहा कि इससे प्राप्त अनुभव का उपयोग सड़क निर्माण में इस्पात स्लैग के व्यापक इस्तेमाल के लिए विस्तृत दिशानिर्देश विकसित करने में किया जाएगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS