ब्रेकिंग न्यूज़
केविवि की स्नातक उत्तीर्ण और परास्नातक छात्राओं को मिलेगा मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का लाभ, एकमुश्त 25000 की मिल सकती है राशिसड़क हादसे में शिक्षिका गंभीर रूप से घायल, प्राथमिक उपचार के बाद बेतिया रेफरसांसद डॉक्टर संजय जयसवाल ने उच्च स्तरीय बैठक में नेपाल बॉर्डर पर उठ रही समस्याओं के समाधान पर विचार विमर्श कियाअजय कुमार भल्ला बने नए गृह सचिव, मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने दी मंजूरीमनसे प्रमुख राज ठाकरे पूछताछ के लिए पहुंचे ईडी दफ्तर, दफ्तर के बाहर धारा-144हजारों के तादाद में युवक-युवतियां, महिलाओं समेत आम जनों ने ली भाजपा की सदस्यताआशीष परियोजना डंकन अस्पताल रक्सौल के द्वारा पनटोका पंचायत भवन के प्रांगण में नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजनएक दिवसीय प्रखंड स्तरीय कृषि समन्यवय कार्यक्रम रक्सौल के कृषि भवन में आयोजित, योजनाओं के बारे में किसानों को दी जानकारी
बिज़नेस
अब पटरियों पर 180 किमी. की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें, भारतीय रेलवे ने तैयार किया इंजन
By Deshwani | Publish Date: 13/8/2019 5:22:42 PM
अब पटरियों पर 180 किमी. की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें, भारतीय रेलवे ने तैयार किया इंजन

कोलकाता। 'मेक इन इंडिया' की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए रेलवे ने स्वदेशी तकनीक से पश्चिम बंगाल के चित्तरंजन लोकोमोटिव वर्क्स में उच्च गति संपन्न इंजन का निर्माण किया है। यह 180 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने में सक्षम है। इसका ट्रायल रन हो चुका है। मंगलवार को रेलवे ने इसका वीडियो जारी है। 

 
इसमें देखा जा सकता है कि स्वदेशी तकनीक से निर्मित यह इंजन 180 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार को चंद सेकेंड में ही हासिल करने में सक्षम है। बताया गया है कि इसे जल्द ही रेलवे के बेड़े शामिल किया जाएगा। 
 
उल्लेखनीय है कि मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए रेलवे ने चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्स में न केवल इंजन बल्कि डिब्बे और अन्य पार्ट्स बनाने शुरू किए हैं। इस इंजन बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है। अब तक 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की बुलेट ट्रेन का ट्रायल रन हुआ है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS