ब्रेकिंग न्यूज़
बेखौफ अपराधियों का कहर, दिनदहाड़े पुलिसकर्मी को गोली से भूना, कार्बाइन ले भागेएमजंक्शन अवार्ड्स में अडानी ग्रुप को मिला सर्वश्रेष्ठ कोयला सर्विस प्रोवाइडर का पुरस्कारटी20 विश्व कप के लिये युवाओं के पास मनोबल बढ़ाने का बेहतरीन मंच: शिखर धवनबिपाशा के बॉलीवुड में 18 साल, 'अजनबी' से की थी बॉलीवुड करियर की शुरुआतराष्ट्रपति ट्रंप का बड़ा फैसला, सऊदी अरब और UAE में तैनात होगी अमेरिकी सेनाउत्तर प्रदेश: पटाखा फैक्टरी में भीषण विस्फोट, 6 लोगों की मौत, कई घायलहरियाणा व महाराष्ट्र के बाद अब झारखंड में विधानसभा चुनाव की तारीख का इंतजारएक लोकसभा सीट समेत बिहार की पांच विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 21 अक्तूबर को, 24 को होगी मतगणना
बिहार
बिहार में पहले से अधिक मरीजों को उपलब्ध हुई सुविधा, 41 नए एम्बुलेंस को दिखाई गयी हरी झंडी
By Deshwani | Publish Date: 11/9/2019 5:56:54 PM
बिहार में पहले से अधिक मरीजों को उपलब्ध हुई सुविधा, 41 नए एम्बुलेंस को दिखाई गयी हरी झंडी

*  नए एम्बुलेंस राज्य के कुल 33 जिलों में मरीजों को आपातकालीन सुविधा प्रदान करेगा 
*  बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करने में गुणवत्तापूर्ण एम्बुलेंस सुविधा जरूरी     
   
पटना। सुमन मिश्रा। बिहार में बेहतर एम्बुलेंस  सुविधा बहाल करने की दिशा में निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री, बिहार सरकार मंगल पाण्डेय एवं प्रधान सचिव स्वास्थ्य विभाग संजय कुमार ने राज्य स्वास्थ्य समिति परिसर में 41 नए BLSA(बेसिक लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस) को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह नए एम्बुलेंस राज्य के कुल 33 जिलों में मरीजों को आपातकालीन सुविधा प्रदान करेगा। 
 
इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने बताया बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करने में गुणवत्तापूर्ण एम्बुलेंस सुविधा जरूरी होता है। आकस्मिक स्तिथि में मरीजों को अस्पताल अथवा स्वास्थ्य केंद्र पर पहुँचाने में एम्बुलेंस की सुविधा संजीवनी साबित होती है। इस दिशा में राज्य सरकार द्वारा निरंतर प्रयास भी किए जाते रहे हैं।
 
अभी राज्य में 102 नंबर की कुल 924 एम्बुलेंस चलाये जा रहे हैं। किन्हीं विषम परिस्थितियों में एम्बुलेंस सुविधा बाधित होने से गंभीर मरीजों को अस्पताल तक पहुँचने में समस्या होती थी। इसे ध्यान में रखते हुए आधुनिक सुविधा से लैस कुल 41 नए एम्बुलेंस की शुरुआत की गयी है। इनके संचालन का नियंत्रण बिहार सरकार के जिम्मे होगा। इससे बिना अवरोध इनका नियमित संचालन किया जा सकेगा। राज्य के कुल 33 जिलों के लोग नए एम्बुलेंस की सुविधा से लाभान्वित हो सकेंगे। 
 
राज्य में बेहतर एम्बुलेंस सुविधा बहाल:  राज्य में फिलहाल टौल फ्री 102 नंबर के  अंतर्गत 880 ( बेसिक लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस), 44 ( एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस) एवं 49 शव वाहन एम्बुलेंस का परिचालन किया जा रहा है। धीरे-धीरे एम्बुलेंस सुविधा में सुधार देखने को मिला है। 102 नंबर सेवा प्रारंभ होने की तिथि में प्रति एम्बुलेंस प्रतिदिन औसत ट्रिप 3.4 था, जो बढ़ कर अगस्त माह में 6.4 हो गया है। यह वर्तमान में राष्ट्रीय औसत से भी अधिक है।  निकट भविष्य में 36 ALSA (एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस) को भी 102 एम्बुलेंस सेवा में शामिल करने की योजना है।
 
33 जिलों में उपलब्ध होंगे बैक अप एम्बुलेंस
कुल 41 एम्बुलेंस को जिलावार बैक-अप एम्बुलेंस के रूप में उपयोग करने हेतु आवंटित किया गया है. बेगूसराय में 2, भागलपुर में 2, दरभंगा में 2, मधुबनी में 2, मुंगेर में 2, समस्तीपुर में 2, सारण में 2, सीतामढ़ी में 2, पश्चिम चंपारण में 2, अररिया में 1, औरंगाबाद में 1, बांका में 1, भोजपुर में 1, पूर्वी चंपारण में 1, गया में 1, जमुई में 1, गोपालगंज में 1, जहानाबाद में 1, कैमूर में 1, कटिहार में 1, खगढ़िया में 1, किशनगंज में 1, लखीसराय में 1, मधेपुरा में 1, मुजफ्फरपुर में 1, नालंदा में 1, नवादा में 1, रोहतास में 1, सहरसा में 1, शेखपुरा में 1, सीतामढ़ी में 1, सिवान में 1 एवं सुपौल में 1 एम्बुलेंस की संख्या बढ़ायी गयी है।  
        
इस अवसर पर बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार, राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यकारी निदेशक मनोज कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS