ब्रेकिंग न्यूज़
पूर्व केन्द्रीय कृषिमंत्री मोतिहारी सांसद लॉकडाउन में देशभर में फंसे सैकड़ो चंपारणवासियों को भोजन मुहैया करा रहे हैंलोगों के अनुरोध पर आपातकाल में प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष - PM CARES की घोषणा, नोट करें खाता नम्बरहाइड्रो-ऑक्‍सी-क्‍लोरोक्विन कोविड- 19 में कारगर, आवश्‍यक दवा घोषित, बिक्री और वितरण नियंत्रित करने संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की अधिसूचना जारीपूरे देश में 562 संक्रमित मामलों की पुष्टि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने की, 41 संक्रमित मरीज हुए स्वस्थईरान से एयरइंडिया के विशेष विमान से लाये गये 277 लोग आज सुबह पहुंचे जोधपुर हवाई अड्डाआज शाम प्रधानमंत्री अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करेंगे बातचीतवित्‍त वर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि 30 जून तक: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामनट्रेन के इंतजार में स्टेशन पर बैठे यात्रियों पर अंधाधुंध फायरिंग, चार लोगों को लगी गोली
बिहार
पूर्वी चंपारण के कई इलाकों में बेमौसम बारिश और बर्फबारी होने से बढ़ी ठंड, दिखा शिमला जैसा नजारा
By Deshwani | Publish Date: 25/2/2020 9:42:20 AM
पूर्वी चंपारण के कई इलाकों में बेमौसम बारिश और बर्फबारी होने से बढ़ी ठंड, दिखा शिमला जैसा नजारा

मोतिहारी देशवाणी न्यूज़ पूर्वी चंपारण के कई इलाकों में बेमौसम बारिश और बर्फबारी होने से ठंड बढ़ गयी है। वहीं, बर्फबारी होने से लोगों में उत्साह भी देखा गया। लोग घरों से बाहर निकल कर शिमला का आनंद लिया। इधर, ओला गिरने से किसानों की फसल को भी भारी क्षति हुई है।

 
 
जानकारी के मुताबिक, पूर्वी चंपारण जिले में असमय बारिश और जगह-जगह ओला गिरने से बर्फ की चादर-सी बिछ गयी है। लोग भले ही शिमला में ठंड का अनुभव कर रहे हो। 
 
 
लेकिन, किसानों को फसल की क्षति की आशंका से कलेजा दहल रहा है। जिले के फेनहारा, पताही, मधुबन, पकड़ीदयाल, शिकारगंज आदि में जमकर बर्फबारी हुई है। सावन की तरह रुक-रुक कर बारिश हो रही है। बारिश और ओला से रबी फसलों को भारी नुकसान होने की आशंका है। किसानों ने बताया कि बारिश और ओला गिरने से मटर, सरसों, अरहर में आते फूल झर जायेंगे। इसका असर सीधे उत्पादन पर पड़ेगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS