ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के सुपारी किलर का झारखंड में भी डिमांड, धनबाद में व्यवसायी हुई हत्या के दो आरोपित सुगौली से गिरफ्तार, यहां भी करनेवाले थे प्रोपर्टी डीलर का मर्डरसमस्तीपुर: 11 महीने बाद पांच मार्च से कई रेलखंड पर चलायी जाएगी बीस स्पेशल डेमू एक्सप्रेसकेंद्रीय शिक्षा मंत्री ने भारतीय ज्ञान परंपरा पाठ्यक्रम कार्यक्रम की अध्ययन सामग्री का विमोचन कियाSBI ने गृह ऋण पर ब्‍याज दर 6.7 प्रतिशत कीमोतिहारी में विभिन्न मुहल्लों में विकास दिवस के रूप मनाया गया बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का 70 वां जन्मदिनबैंक से रुपए निकालने के बाद बरतें सतर्कता, मोतिहारी में झपटमारों ने स्कॉर्पियों से उड़ाए 13 लाख नगदसमस्तीपुर: सरायरंजन में शार्ट सर्किट, महादलित के दर्जन भर घर राख, लाखों की क्षतिवाइस एडमिरल अजेंद्र बहादुर सिंह ने फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, ईएनसी का पदभार संभाला
झारखंड
झारखंड: जामताड़ा में अवैध खनन की शिकायत पर पहुंची छापामार टीम पर कोयला माफियाओं ने किया हमला, कई सुरक्षाकर्मी घायल
By Deshwani | Publish Date: 23/1/2021 8:45:59 PM
झारखंड: जामताड़ा में अवैध खनन की शिकायत पर पहुंची छापामार टीम पर कोयला माफियाओं ने किया हमला, कई सुरक्षाकर्मी घायल

रांची। जामताड़ा में ईसीएल की बंद खदान से अवैध खनन की शिकायत पर पहुंची छापामार टीम पर कोयला माफियाओं ने हमला बोल दिया। ग्रामीणों ने भी उनका साथ देते हुए सुरक्षाकर्मियों की गाडि़यों को पलट दिया और उन पर जमकर पत्‍थर चलाए। सुरक्षाकर्मियों ने मौके से भागकर और जंगल में छिपकर किसी तरह अपनी जान बचाई। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की रात 10 बजे के करीब ईसीएल के सुरक्षा अधिकारी मुकेश कुमार के नेतृत्‍व में एक टीम ईसीएल की बंद खदान से चल रहे अवैध खनन पर छापा मारने पहुंची थी।





कमांडेंट ने बताया कि उस वक्‍त 30 से अधिक गाडि़यां वहां खड़ी थीं। खदान में पोकलैंड मशीन और जेसीबी से अवैध खनन किया जा रहा था। छापामार टीम को देखे हुी कोयला माफियाओं ने उन पर हमला कर दिया। सुरक्षकर्मियों ने जवाब देने की कोशिश की लेकिन माफियाओं के साथ ग्रामीणों की बड़ी संख्‍या को देखते हुए उन्‍हें वहां से भागना पड़ा। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों की पिटाई और पत्‍थरबाजी में कुछ सुरक्षाकर्मियों को चोटें भी आईं। 



छापामार टीम के अगुआ अधिकारी ने बताया कि उन्‍होंने रात 10 बजे के करीब एसपी को फोन किया था। उन्‍हें बताया कि थाना पुलिस पहले से कहीं ड्यूटी पर तैनात है। रात करीब साढ़े 11 बजे डीएसपी मौके पर पहुंचे। उनकी मौजूदगी में भी टीम पर हमला हुआ। तब थाना पुलिस ने छापामार टीम को जान का खतरा बताते हुए वहां से हट जाने की सलाह दी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS