ब्रेकिंग न्यूज़
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया इनामी अपराधी मुचकुंद, 50 से अधिक मामलों में थी तलाशट्रक-बाइक की भिड़ंत में तीन परीक्षार्थियों की दर्दनाक मौतसचिन पायलट बनाए गए राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री, गहलोत होंगे सीएम'सिंबा' के नए गाने 'तेरे बिन..' में नजर आया रणवीर सिंह और सारा अली खान का रोमांसअब नेपाल में हुई नोटबंदी, आज से नहीं चलेंगे 200, 500 और 2000 के 'भारतीय नोट'राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही 17 दिसंबर तक स्थगितबीपीएससी 64वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा 16 दिसंबर को, 4.71 लाख से अधिक अभ्यार्थी होंगे शामिलपरिणय सूत्र में बंधे ओलंपियन पहलवान विनेश फोगाट और सोमबीर राठी
अंतरराष्ट्रीय
रक्सौल-काठमांडू रेल परियोजना के कार्य में तेजी लायेगा नेपाल, भारत
By Deshwani | Publish Date: 11/7/2018 4:56:44 PM
रक्सौल-काठमांडू रेल परियोजना के कार्य में तेजी लायेगा नेपाल, भारत

 काठमांडू।  बिहार के रक्सौल से लेकर काठमांडू तक बननेवाली रेल लाइन के लिए प्रारंभिक इंजीनियरिंग-सह-यातायात सर्वेक्षण को लेकर एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए भारत और नेपाल के बीच सहमति बन गयी है।

 
तिब्बत को काठमांडो से जोड़ने वाली एक रेल लाइन के लिए व्यवहार्यता अध्ययन करने पर नेपाल और चीन के बीच सहमति बनने के कुछ ही हफ्तों के बाद यह घटनाक्रम हुआ है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की भारत यात्रा के दौरान काठमांडू से रक्सौल को रेल लाइन से जोड़ने के लिए नेपाल और भारत के बीच सहमति बनी थी। रक्सौल-काठमांडू रेल लाइन के अलावा नेपाल और भारत के बीच सीमा के आर-पार पांच रेल लाइनों का निर्माण कार्य पहले ही शुरू कर दिया गया है। इसमें एक रेल लाइन जयनगर से जनकपुर-कुर्था के बीच एक साल के अंदर शुरू हो जायेगी।
 
नेपाल और भारत के वरिष्ठ सरकारी अधिकारी सोमवार को रक्सौल-काठमांडू रेल लाइन के सहमति पत्र (एमओयू) को अंतिम रूप देने पर सहमत हो गये हैं। भारत ने रक्सौल-काठमांडू रेल लाइन के एमओयू की विषय वस्तु भेज दी है। काठमांडू पोस्ट की खबर के मुताबिक, बैठक के दौरान दोनों देश ठोस प्रयास करने और सभी मुद्दों का फौरन हल करने पर सहमत हुए हैं ताकि जयनगर से जनकपुर-कुर्था के बीच और जोगबनी से बिराटनगर कस्टम यार्ड के बीच अक्तूबर 2018 तक पूरी हो जाये।
 
नेपाल की ओर से भौतिक आधारभूत संरचना एवं परिवहन (एमओपीआईटी) मंत्रालय के संयुक्त सचिव केशब कुमार शर्मा और भारत के विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (डीपीए -III) नमगया खामपा ने बैठक में हिस्सा लि.। बयान के मुताबिक कुर्था-बिजलपुर-बर्दीबास और बिराटनगर कस्टम यार्ड से बिराटनगर खंडों के शेष हिस्सों पर भी काम प्राथमिकता के आधार पर आगे बढ़ाने पर बैठक में सहमति बनी।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS