ब्रेकिंग न्यूज़
केविवि की स्नातक उत्तीर्ण और परास्नातक छात्राओं को मिलेगा मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का लाभ, एकमुश्त 25000 की मिल सकती है राशिसड़क हादसे में शिक्षिका गंभीर रूप से घायल, प्राथमिक उपचार के बाद बेतिया रेफरसांसद डॉक्टर संजय जयसवाल ने उच्च स्तरीय बैठक में नेपाल बॉर्डर पर उठ रही समस्याओं के समाधान पर विचार विमर्श कियाअजय कुमार भल्ला बने नए गृह सचिव, मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने दी मंजूरीमनसे प्रमुख राज ठाकरे पूछताछ के लिए पहुंचे ईडी दफ्तर, दफ्तर के बाहर धारा-144हजारों के तादाद में युवक-युवतियां, महिलाओं समेत आम जनों ने ली भाजपा की सदस्यताआशीष परियोजना डंकन अस्पताल रक्सौल के द्वारा पनटोका पंचायत भवन के प्रांगण में नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजनएक दिवसीय प्रखंड स्तरीय कृषि समन्यवय कार्यक्रम रक्सौल के कृषि भवन में आयोजित, योजनाओं के बारे में किसानों को दी जानकारी
अंतरराष्ट्रीय
कश्मीर को अमेरिका ने बताया द्विपक्षीय मसला, मध्यस्थता से अब ट्रंप का इनकार
By Deshwani | Publish Date: 13/8/2019 5:55:29 PM
कश्मीर को अमेरिका ने बताया द्विपक्षीय मसला, मध्यस्थता से अब ट्रंप का इनकार

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे को भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा बताया है। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर मध्यस्थता करने से इनकार कर दिया है। यह जानकारी  मंगलवार को अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने दी।

 
श्रृंगला ने कहा कि अमेरिका अपनी पुरानी नीति पर चलना चाहता है। वह चाहता है कि भारत और पाकिस्तान एक साथ मिलकर इस मसले को सुलझाने की कोशिश करें। उन्होंने कहा कि ट्रंप पहले ही साफ कर चुके हैं कि अगर भारत और पाकिस्तान चाहते हैं कि वे मध्यस्थता करें तो वे मध्यस्थता कर सकते हैं, लेकिन भारत का रुख साफ है कि कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा है, जिस पर फैसला केवल दोनों देश ही कर सकते हैं।
 
उल्लेखनीय है कि हाल में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिकी दौरे के दौरान ट्रंप द्वारा कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने के प्रस्ताव की पेशकश की गई थी । भारत का कश्मीर पर रुख हमेशा से साफ रहा है। यह आंतरिक मुद्दा है जिस पर किसी तीसरे देश का दखल स्वीकार नहीं किया जाएगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS